ताज़ा खबर :
prev next

लोगों की “पान की पीक” लगा रही शहर की सुंदरता में बट्टा, कैसे बने अपना सिटी स्मार्ट..?

लोगों की “पान की पीक” लगा रही शहर की सुंदरता में बट्टा, कैसे बने अपना सिटी स्मार्ट..?

गाज़ियाबाद। जब आम जनता ही शहर के विकास की दुश्मन बनी हुई है तो अपना गाजियाबाद कैसे स्मार्ट सिटी की रेस में शामिल होगा..? गाजियाबाद की सड़को पर जब निकलिए तो एक नजर फ्लाईओवर की दीवारों पर जरुर डालियेगा। असली हकीकत आपको उन दीवारों पर नजर आ जाएगी।

दरअसल शहर की एक नामी संस्था (दिशा फाउन्डेशन) ने शहर में बने सभी फ्लाईओवर्स की दीवारों को संवारने का जिम्मा उठा रखा है। इतिहास का चित्रण दर्शाती इन दीवारों को लोग देखते नही थकते। लेकिन बहुत अफ़सोस की बात है कि ये ख़ूबसूरती शहर वासियों को रास नही आ रही। इन सुन्दर दीवारों को लोग अपनी पान की पीक से भद्दा बना रहे हैं।

जीटी रोड स्थित घंटा घर से कुछ ही दूरी पर बने फ्लाईओवर की दीवार को बड़ी ही खूबसूरती से दिशा फाउन्डेशन संवारने में लगा है। अभी चंद दिन भी नही हुए इनको पेंट किये हुए और लोगों ने अपनी पान की पीक से इस दीवार को बदरंग कर दिया। लोगों की पान की पीक इस फ्लाईओवर की दीवार की खूबसूरती छीन रही है।

इस मामले में दिशा फाउन्डेशन की अध्यक्ष डॉ उदिता त्यागी ने बताया कि हमारा जो काम है वो हम करते रहेंगे। लोगों के दिमाग की जो मानसिकता है वो थोड़ा देर से ही सही लेकिन बदलेगी जरुर। प्रशासन से अपील है कि इस पर रोक लगाने के लिए शहर भर में हर पांच या दस फीट की दूरी पर पीकदान रख दिए जाएँ।

शहर की हर समस्या का निदान प्रशासन के पास भी नही है। बहुत ही शर्म की बात है कि हर समस्या का जिम्मेदार प्रशासन को ठहराने वाले लोग ही शहर को बदरंग करने पर तुले हुए हैं। आपसे निवेदन है कि ये शहर आपका अपना है, इसे स्वच्छ और सुंदर बनाने में प्रशासन की मदद करें। 

हमारा गाज़ियाबाद के एंड्राइड ऐप के लिए आप यहाँ क्लिक कर सकते हैंआप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।