ताज़ा खबर :
prev next

पहले दहेज के लिए किया प्रताड़ित, फिर बच्चा नहीं होने पर महिला को घर से निकाला

पहले दहेज के लिए किया प्रताड़ित, फिर बच्चा नहीं होने पर महिला को घर से निकाला

गाज़ियाबाद। बच्चा न होने पर विवाहिता को मारपीट कर घर से निकालने का मामला सामने आया है। जिसके बाद विवाहिता ससुराल के बाहर धरने पर बैठ गई है। वहीं, पुलिस इस मामले में कार्रवाई करने से इनकार कर रही है। मूल रूप से बरेली की रहने वाली तन्वी की शादी 23 नवंबर 2015 को प्रताप विहार में रहने वाले ऋषभ के साथ हुई थी।

तन्वी का आरोप है कि शादी के बाद कुछ महीनों तक तो सब ठीक रहा, लेकिन बाद में उसे दहेज के लिए प्रताड़ित किया जाने लगा। एक साल बाद उसे बच्चा न होने पर और ज्यादा परेशान किया जाने लगा। जिसके बाद डेढ़ साल तक वह किसी तरह गुजारा करती रही, लेकिन जब मारपीट और उत्पीड़न ज्यादा बढ़ गया तो वह अपने मायके चली गई। बरेली में तन्वी ने पति और सास समेत ससुरालियों के खिलाफ महिला थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई।

तन्वी का कहना है कि कुछ दिन पहले उसे पता चला कि ऋषभ ने दूसरी शादी कर ली है और उससे उसे एक बच्चा भी है। यह पता चलने पर वह रविवार को ससुराल पहुंची। ससुरालियों ने उसे धक्के मारकर घर से बाहर निकाल दिया। सूचना मिलने के बाद सामाजिक संस्था आनंद सेवा समिति की ममता सिंह मौके पर पहुंचीं और पुलिस को मामले की सूचना दी।

पीड़िता का कहना है कि उसके पति के एक युवती से संबंध थे। उसकी मौजूदगी में ही पति उसे घर लाता था। विरोध करने पर शराब पीकर उसके साथ मारपीट करता था। जिसकी वजह से एक बार उसका गर्भपात भी हो गया। विरोध के बावजूद भी पति दूसरी युवती को पत्नी बनाकर घर में ले आया। इंस्पेक्टर विजयनगर नरेश कुमार सिंह का कहना है कि पति पत्नी का मामला कोर्ट में विचाराधीन है। जिसके चलते पुलिस कोई कार्रवाई करने में असमर्थ है।

 

हमारा गाज़ियाबाद के एंड्राइड ऐप के लिए आप यहाँ क्लिक कर सकते हैंआप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।

By प्रगति शर्मा : Thursday 22 फ़रवरी, 2018 14:10 PM