ताज़ा खबर :
prev next

शर्मनाक – स्कूल से निकाला तो बच्चे ने प्रिंसिपल को गोलियों से भूना

शर्मनाक – स्कूल से निकाला तो बच्चे ने प्रिंसिपल को गोलियों से भूना

यमुनानगर | हरियाणा के यमुनानगर स्थित विवेकानंद स्कूल में 12वीं क्लास के एक छात्र ने प्रिंसिपल की गोली मारकर हत्या कर दी है। एसपी राजेश कालिया ने बताया कि आरोपी छात्र को गिरफ्तार कर लिया गया है। बताया जा रहा है कि गोलियां छात्र ने अपने पिता की लाइसेंसी रिवॉल्वर से मारी। खबरों के मुताबिक स्‍कूल की प्रिंसिपल रीतू छाबड़ा को गोली मारने वाला छात्र कॉमर्स साइड का छात्र है। वह प्रिंसिपल की डांट से बहुत नाराज था।
घटना दोपहर के करीब हुई जब आरोपी छात्र अपने पिता की लाइसेंसी रिवाल्वर लेकर प्रिंसिपल रितु छाबड़ा के कमरे में पहुंचा और उन पर पास से तीन गोलियां दाग दीं जो उन्हें छाती और टांग पर लगीं। गम्भीर रूप से घायल प्रिंसिपल को तत्काल पास के एक अस्पताल में ले जाया गया जहां उन्होंने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। हमलावर छात्र ने वारदात के बाद फरार होने का प्रयास किया लेकिन उसे स्कूल स्टॉफ और आसपास के लोगों ने दबोच लिया। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस अधीक्षक राजेश कालिया और सिटी थाना पुलिस मौके पर पहुंची और छात्र को उसके हवाले कर दिया गया।
बताया जाता है कि छात्र को स्कूल ने उसकी कम हाजिरी और उसके झगड़ालु रवैये के कारण हाल ही में स्कूल से निकाल दिया था। कालिया ने बताया कि घटना की जांच की जा रही है। उन्होंने बताया कि इस घटना में हत्या का मामला दर्ज किया गया है। इसके अलावा छात्र के पिता के खिलाफ भी शस्त्र कानून के तहत मामला दर्ज किया गया है।

भारत में शिक्षकों को भगवान से भी ऊंचा दर्जा देने की परंपरा रही है। मगर, पश्चिमी सभ्यता और उपभोकतवाद हावी होने के बाद अब अधिकतर छात्र और अभिभावक शिक्षकों को भी पैसा देने के बदले सेवाएँ देने वाले से अधिक इज्जत नहीं देते हैं। इस स्थिति के लिए स्कूल और शिक्षक तो जिम्मेदार हैं ही, साथ ही समाज को भी वर्तमान स्थिति की ज़िम्मेदारी लेनी होगी।

आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।

By हमारा गाज़ियाबाद ब्यूरो : Thursday 22 फ़रवरी, 2018 14:16 PM