ताज़ा खबर :
prev next

भू-माफियाओं की अब खैर नहीं – अवैध बैंक्वेट हॉलों पर कसता जीडीए का शिकंजा

भू-माफियाओं की अब खैर नहीं – अवैध बैंक्वेट हॉलों पर कसता जीडीए का शिकंजा

गाज़ियाबाद | यदि किसी शहर को कर्तव्यनिष्ठ और निडर अधिकारी मिल जाएँ तो शहर की तस्वीर ही बदल जाती है। आजकल कुछ ऐसा ही हमारे गाज़ियाबाद के साथ हो रहा है। जिलाधिकारी रितु माहेश्वरी ने जब से गाज़ियाबाद विकास प्राधिकरण (जीडीए) का अतिरिक्त चार्ज संभाला है वे निडर होकर शहर को दीमक की तरह खा रहे भू-माफियाओं के खिलाफ काम कर रही हैं। मंगलवार को कांग्रेस नेता के बैंक्वेट हॉल को गिराने के बाद बुधवार को भी जीडीए की कार्रवाई जारी रही। जीडीए ने बुधवार को डीएलएफ कॉलोनी और विक्रम एन्क्लेव में कार्रवाई करते हुए बैंक्वेट हॉल को सील कर दिया। इतना ही नहीं दो अपार्टमेंट में हुए अवैध निर्माण को भी ध्वस्त किया गया।

जीडीए टीम बुधवार को पहले डीएलएफ कॉलोनी पहुंची। यहां प्लॉट संख्या 59 और 60 पर हुए अवैध निर्माणों को ध्वस्त किया और बिल्डरों को चेतावनी भी दी गई। इसके बाद जीडीए टीम विक्रम एन्क्लेव पहुंची। यहां सेंचुरियन गार्डन बैंक्वट हॉल को सील किया गया। सहायक अभियंता रणबीर सिंह ने बताया कि बैंक्वट हॉल अवैध रूप से संचालित किया जा रहा था। इसका निर्माण नक्शे के अनुरूप नहीं किया गया था। इस दौरान जीडीए टीम का लोगों ने विरोध भी किया गया। लेकिन मौके पर पुलिसबल ने विरोध कर रहे लोगों को कार्रवाई की चेतावनी देकर शांत करवा दिया। इस दौरान अवर अभियंता राजेंद्र सिंह, राकेश राणा, जीडीए पुलिस इंस्पेक्टर वीरेंद्र सिंह यादव समेत अन्य पुलिसबल मौजूद रहा।

लापजत नगर में बुधवार को जीडीए ने सड़कों के किनारे से रेहडी-पटरी और खोखे हटवाएं। यहां करीब 20 खोखे और रेहडी-पटरी हटाए गए, जबकि स्थायी निर्माण तोड़ने पर लोगों ने विरोध किया। इस पर नगर निगम ने अतिक्रमण करने वालों को नोटिस जारी किए। मोहन नगर जोन प्रभारी एसके गौतम ने बताया कि यदि लोगों ने खुद अतिक्रमण नहीं हटाया, तो कार्रवाई की जाएगी। इसके लिए लोगों को नोटिस भी जारी कर दिए हैं।

जिलाधिकारी रितु माहेश्वरी की गिनती उत्तर काडर के उन गिने चुने निर्भीक आईएएस अधिकारियों में होती है जो कानून के आगे किसी की नहीं चलने देते हैं। गाज़ियाबाद के सभी जागरूक नागरिक शहर को बेहतर बनाने की दिशा में डीएम माहेश्वरी के साथ कंधे से कंधा मिलकर साथ चलने को तैयार हैं।

आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।

By हमारा गाज़ियाबाद ब्यूरो : Wednesday 25 अप्रैल, 2018 15:48 PM