ताज़ा खबर :
prev next

अस्मिता से खिलवाड़ करने वाला कांग्रेसी नेता का भतीजा दोस्त सहित गिरफ्तार

अस्मिता से खिलवाड़ करने वाला कांग्रेसी नेता का भतीजा दोस्त सहित गिरफ्तार

गाज़ियाबाद | गाज़ियाबाद पुलिस ने एक महिला को अश्लील मेसेज भेजने और जबर्दस्ती दोस्ती गाँठने के आरोप में एक स्थानीय कांग्रेसी नेता के भतीजे और उसके दोस्त को गिरफ्तार कर लिया है। दोनों बिगड़े रहीसजादों पर आरोप है कि वे लड़की द्वारा इंकार करने पर तेज़ाब से हमला करने कि धमकी दे रहे थे। स्थानीय पुलिस ने मामला लखनऊ पहुंचने के बाद पीड़िता पर समझौते का दबाव बनाया गया, लेकिन महिला कार्रवाई को लेकर अड़ी रही। आखिर में कविनगर पुलिस ने सोमवार रात दोनों आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया। महिला ने बताया कि उन्होंने आरोपियों को सजा दिलाने की ठानी और रविवार को 1090 पर शिकायत की। साथ ही कविनगर थाने में भी तहरीर दी। इसके बाद सोमवार रात केस दर्ज हुआ।
कविनगर थाना क्षेत्र में रहने वाली महिला क्रॉसिंग रिपब्लिक में मेकओवर सेंटर चलाती हैं। बताया जा रहा है कि महिला के पिता डॉक्टर हैं। महिला ने बताया कि एक वरिष्ठ कांग्रेस नेता का भतीजा गुलशन पाल 12 साल पहले उनका क्लासमेट था, उनकी दोस्ती नहीं थी। करीब 4 साल पहले दोनों फेसबुक पर मिले थे। आरोप है कि इस बीच गुलशन ने कई बार उन्हें मेसेज भेजकर परेशान किया। वह उनसे मिलने के लिए कहता था, लेकिन वह उसे मना कर देती थीं।
महिला ने बताया कि जब बात हद से बढ़ गई तो उन्होंने गुलशन को पुलिस से शिकायत करने की चेतावनी दी। बताया जा रहा है कि आरोपी ने अपने दोस्त दीपक त्यागी को महिला की डिटेल दे दी। दीपक का राजनगर में रिजॉर्ट है। सालभर पहले दीपक ने महिला को फेसबुक पर फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजी थी। कॉमन फ्रेंड होने के कारण पीड़िता ने उसकी रिक्वेस्ट स्वीकार कर ली। इसके बाद दीपक लगातार अश्लील मेसेज भेजकर उसे परेशान करने लगा। पीड़िता ने कुछ दिनों तक तो इसे नजरअंदाज किया और फिर आरोपी को चेताते हुए फेसबुक पर उसे ब्लॉक कर दिया था।
पीड़िता ने आरोप लगाया कि करीब 8 दिन पहले दीपक ने हापुड़ चुंगी के पास बाइक से उनका रास्ता रोक लिया और उनके साथ छेड़छाड़ की। दीपक ने उन्हें रिलेशनशिप में आने को कहा, जबकि आरोपी खुद शादीशुदा है। विरोध करने पर उसने रुपये का रसूख दिखाकर उन्हें घर से उठाने और चेहरे पर तेजाब फेंकने की धमकी दी। इस घटना से वह बुरी तरह डर गई थीं। आरोप है कि शुक्रवार और शनिवार को दीपक ने इंस्टाग्राम पर उन्हें फिर अश्लील मेसेज भेजे। पीड़िता ने बताया, मुझे जिस तरह से परेशान किया जा रहा था, उसके बाद मेरे पास दो ही रास्ते थे। या तो मैं आवाज उठाती या फिर आत्महत्या कर लेती, लेकिन मैं कमजोर नहीं हूं।

हमारा गाज़ियाबाद उस निर्भीक फाइटर युवती को सलाम करता है जो बिना किसी दबाव में आए इन बिगड़ैल रहीसजादों को सबक सीखने पर अड़ी रही। साथ ही हम अपने शहर की तमाम सबलाओं से आप महिलाओं की अस्मिता से खिलवाड़ करने वाले इन मनचलों का हिम्मत से सामना करती रहीं, आप अकेली नहीं है, हमारा गाज़ियाबाद और हमारे जागरूक नागरिक हमेशा आपके साथ हैं।

आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।

By हमारा गाज़ियाबाद ब्यूरो : Thursday 22 फ़रवरी, 2018 14:23 PM