ताज़ा खबर :
prev next

घंटों तक शव पड़ा रहा एनएच-24 पर और गाड़ियाँ रौंद कर गुजरती रहीं

घंटों तक शव पड़ा रहा एनएच-24 पर और गाड़ियाँ रौंद कर गुजरती रहीं

नई दिल्ली | हिंदुस्तान का दिल कही जाने वाली राजधानी दिल्ली में मानवता को शर्मसार कर देने वाली घटना सामने आई है। यहाँ हिट ऐंड रन की घटना के बाद NH-24 पर एक शव घंटों सड़क पर पड़ा रहा। इस दौरान कई गाड़ियां शव को कुचलकर गुजरती रहीं पर किसी ने भी रुककर शव को सड़क से हटवाने की कोशिश नहीं की। करीब 200 मीटर तक शव के टुकड़े फैल गए। मौके पर पहुंची पुलिस ने बुरी तरह कुचल चुके शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भिजवाया।

मृतक की उम्र करीब 35 साल बताई जा रही है, लेकिन पहचान नहीं हो पाई है। हादसा ईस्ट डिस्ट्रिक्ट के पांडव नगर इलाके में हुआ। पुलिस ने खतरनाक ड्राइविंग और लापरवाही से हुई मौत का मामला दर्जकर जांच शुरू कर दी है। पुलिस सूत्रों के अनुसार 10 जनवरी की सुबह 4 बजे के करीब पुलिस को कॉल मिली थी कि NH-24 पर गाजीपुर की तरफ जाने वाली सड़क पर जहां अक्षरधाम पुल का बोर्ड लगा हुआ वहां एक शव पड़ा है। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई। हादसे वाली जगह से करीब 200 मीटर दूर तक शव के टुकड़े फैले हुए थे। धड़ से ऊपर वाला हिस्सा ही गायब था। पुलिस ने बॉडी को लाल बहादुर शास्त्री अस्पताल पहुंचाया। बॉडी को देखकर अनुमान लगाया जा रहा है कि किसी गाड़ी की टक्कर लगने के बाद युवक सड़क पर गिर गया होगा, जिसके बाद कई गाड़ियां शव के ऊपर से गुजर गईं।

पुलिस अफसरों ने बताया कि मृतक के पास से तंबाकू की एक पुड़िया मिली है। हाथ में रेड कलर का कलावा बंधा हुआ है। ऐसा कुछ नहीं मिला, जिससे उसकी पहचान हो सके। शव के पास 3-4 रुपये के सिक्के बिखरे मिले। पुलिस ने यह सब सामान कब्जे में ले लिया है। मृतक की पहचान के लिए पता लगाया जा रहा है कि साउथ ईस्ट डिस्ट्रिक्ट के अलावा ईस्ट डिस्ट्रिक्ट के थानों में किसी के लापता होने की सूचना तो दर्ज नहीं हुई है।

सड़क हादसों में घायलों के प्रति हम हिंदुस्तानियों की उदासीनता जग जाहीर है। हालांकि कानूनन घायलों की मदद करने वालों को पुलिस परेशान नहीं कर सकती है मगर फिर भी हम मदद के लिए आगे नहीं आते हैं जो शर्मनाक है। याद रखें जब आपका कोई अपना दुर्भाग्य से सड़क पर पड़ा होगा, तो उसकी मदद के लिए भी कोई नहीं आयेगा, क्योंकि अफसोस यहाँ हर कोई आप ही की तरह सोचता है।

आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।

By हमारा गाज़ियाबाद ब्यूरो : Monday 22 जनवरी, 2018 05:58 AM Updated