ताज़ा खबर :
prev next

7 अधिकारियों की टीम धार्मिक स्थलों से हटाएगी अवैध लाउडस्पीकर

7 अधिकारियों की टीम धार्मिक स्थलों से हटाएगी अवैध लाउडस्पीकर

गाज़ियाबाद। जिले में धार्मिक स्थलों से अवैध लाउडस्पीकर हटाने के लिए 7 अधिकारियों की एक टीम गठित कर दी गई है। सभी टीमों का नेतृत्व अलग-अलग एसडीएम करेंगे। विरोध से निपटने के लिए टीम के साथ भारी संख्या में पुलिस बल तैनात रहेगा।

इस दौरान जिलाधिकारी को 15 जनवरी तक रिपोर्ट तैयार कर शासन को भेजनी है। डीएम रितु माहेश्वरी ने इस मामले मे अवैध लाउडस्पीकर आदि पर कार्रवाई के लिए सात टीमों का गठन कर दिया है। हर टीम के लिए डिप्टी कलेक्टर और एसडीएम को जिम्मेदारी सौंपी गई है। टीम के साथ पुलिस को भी लगाया गया है। पूरे जनपद में कितने लाउडस्पीकर हैं। कितनों ने इजाजत ली कितनों ने नहीं इसकी रिपोर्ट 15 जनवरी तक मांगी गई है।

वहीं, मोदीनगर, सदर और लोनी के एसडीएम हर थाना क्षेत्र में जाकर धार्मिक स्थलों पर जाएंगे। बिना अनुमति के लाउडस्पीकर मिलने पर उन्हें हटाया जाएगा। गौरतलब है कि हाईकोर्ट ने लाउडस्पीकर को लेकर आदेश जारी किया है। कोर्ट ने गाइड लाइन तैयार की है कि किस समय कितनी ध्वनि के लाउडस्पीकर से साउंड निकलेगी। इसके साथ ही यह भी स्पष्ट कर दिया कि बिना अनुमति के कहीं भी लाउडस्पीकर का प्रयोग नहीं हो सकेगा।

वहीं, सरकार के इस फैसले को लेकर बीते दिनों मेरठ रोड स्थित सिद्धेश्वर मंदिर से करीब 40 वर्षों पहले लगे 3 लाउडस्पीकर पुजारियों की सहमति से हटा दी गई।

हमारा गाज़ियाबाद के एंड्राइड ऐप के लिए आप यहाँ क्लिक कर सकते हैंआप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।