ताज़ा खबर :
prev next

संयुक्त अस्पताल से गायब हैं डाक्टर, कैसे होगा मरीजों का इलाज

संयुक्त अस्पताल से गायब हैं डाक्टर, कैसे होगा मरीजों का इलाज

गाज़ियाबाद | जिलाधिकारी रितु माहेश्वरी ने सोमवार को ही संजय नगर स्थित संयुक्त अस्पताल में बरती जा रही लापरवाहियों के लिए अधिकारियों की क्लास ली थी मगर उनकी यह सख्ती भी शहर के इस महत्वपूर्ण अस्पताल के अधिकारियों पर बेअसर साबित हुई है। मंगलवार को जब “हमारा गाज़ियाबाद” की टीम ने संयुक्त अस्पताल का दौरा किया तो हमें यहाँ तैनात अधिकांश डॉक्टर छुट्टी पर मिले। डॉक्टरों की गैर मौजूदगी में मरीजों को खासी परेशानियों का सामना करना पद रहा था। हालांकि अस्पताल के सीएमएस डॉ. दिनेश शर्मा ने बताया कि गैरहाजिर रहने वाले सभी डॉक्टर्स को नोटिस जारी किया गया है, मगर यह समस्या महीनों पुरानी है।

मंगलवार को जिला संयुक्त अस्पताल में मरीजों को देखने के लिए के 2 डॉक्टर मौजूद थे। अस्पताल में ज़्यादातर कमरों पर ताला लटका हुआ था। इनमें से कुछ डॉक्टर छुट्टी पर गए थे तो कुछ ने बीमार होने के कारण छुट्टी ले ली। अस्पताल में डॉक्टर्स के नहीं होने के कारण मरीजों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ा। सैकड़ों मरीज बिना दवा लिए ही वापस लौट गए। संयुक्त अस्पताल में प्रतिदिन की ओपडी सुबह 8.00 बजे से 10.00 बजे तक है। मंगलवार को सीनियर फिजीशियन डॉ. अखिलेश मोहन, डॉ. संजय तेवतिया और डॉ. एसएन सिंह के अलावा बाल रोग विशेषज्ञ डॉ. अर्चना सिंह और ईएनटी विशेषज्ञ सुधीर कुमार नदारद थे। सीएमएस डॉ. दिनेश शर्मा ने कहा कि कुछ डॉक्टर्स जरूरी काम के चलते छुट्टी लेकर गए हैं तो कुछ बीमार होने के कारण छुट्टी पर हैं। हालांकि बिना सूचना दिए छुट्टी पर रहने वाले डॉक्टर्स को नोटिस जारी किया गया है।

संयुक्त चिकित्सालय पिछले काफी दिनों से दयनीय स्थिति में चल रहा है। पहले से ही डॉक्टरों की कमी झेल रहे इस अस्पताल में यदि एक भी डॉक्टर छुट्टी चला जाता है तो स्थिति काबू से बाहर हो जाती है। प्रदेश सरकार को इस अस्पताल की दशा सुधारने के लिए तत्काल कार्यवाही करने की जरूरत है।

आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।

By हमारा गाज़ियाबाद ब्यूरो : Friday 27 अप्रैल, 2018 14:10 PM