ताज़ा खबर :
prev next

रिश्तेदारों को लाभ पहुंचाने वाले अधिकारी जायेंगे जेल- मण्डलायुक्त प्रभात कुमार

रिश्तेदारों को लाभ पहुंचाने वाले अधिकारी जायेंगे जेल- मण्डलायुक्त प्रभात कुमार

मेरठ। भारत सरकार के आवास और शहरी कार्य मंत्रालय के द्वारा स्वच्छ भारत मिशन (शहरी) के अन्तर्गत मण्डल के सभी जनपदों सहित प्रदेश में स्वच्छ सर्वेक्षण 2018 किया जाएगा। 4 जनवरी से 10 मार्च 2018 तक सभी नगर निकायों में भारत सरकार द्वारा भेजी गयी टीम द्वारा सर्वेक्षण का कार्य किया जाएगा। यह सर्वेक्षण तीन बिन्दुओं पर आधारित होगा व चार हजार नम्बरों का होगा। ये बातें आयुक्त डा0 प्रभात कुमार ने प्रशासनिक अधिकारियों के साथ बैठक में कही।

आयुक्त ने बताया कि स्वच्छ भारत मिशन के अन्तर्गत देश व प्रदेश में आगामी 04 जनवरी से 10 मार्च 2018 तक सभी नगर निकायों में स्वच्छ सर्वेक्षण 2018 भारत सरकार द्वारा कराया जा रहा है। आयुक्त ने आमजन को स्वच्छता ऐप को गूगल प्ले स्टोर से अधिकाधिक संख्या में डाउनलोड करने व उसका उपयोग करने के लिए कहा तथा बताया कि पेट्रोल पम्प के शौचालयों को आमजन उपयोग कर सकते है। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि जो भी अधिकारी अपने किसी रिश्तेदार को प्रत्यक्ष व परोक्ष रूप से लाभ पहुचाते हुए ठेकेदारी व अन्य कार्य देते हैं तो ऐसे अधिकारियों पर कड़ी कार्यवाही करते हुए उन्हें जेल भेजा जाएगा।

आयुक्त ने अधिकारियों को स्वच्छ सर्वेक्षण का व्यापाक प्रचार प्रसार कराने मोहल्ले वासियों की बैठक करने, सभासदों के साथ बैठक कर जागरूकता अभियान चलाने, कूड़ा निस्तारण में लगे वाहनों को जीपीएस से युक्त करने, गाड़ियों में लाॅगबुक रखकर उसको नियमित रूप से भरने, सफाई कर्मियों को निर्धारित वेशभूषा में सफाई कराने, लैण्डफिल व डम्पिग ग्राउंड को ठीक रखने के लिए निर्देशित किया।

इस मौके पर जिलाधिकारी बुलन्दशहर रोशन जैकब, हापुड़ कृष्ण करूणेष, अपर आयुक्त आर0एन0 धामा, अपर जिलाधिकारी प्रशासन सत्य प्रकाश पटेल, गौतमबुद्धनगर केशव कुमार, अरविन्द कुमार, ज्ञानेन्द्र सिंह, लोकपाल सिंह, नगर आयुक्त गाजियाबाद सीपी सिंह, मुख्य अभियंता, नगर निगम मेरठ केबी वाष्णेय सहित अन्य अधिकारी व नगर निकायों के प्रशासनिक अधिकारी उपस्थित रहे।

हमारा गाज़ियाबाद के एंड्राइड ऐप के लिए आप यहाँ क्लिक कर सकते हैंआप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।