ताज़ा खबर :
prev next

31 जनवरी तक संपत्ति का दें ब्योरा वरना होगी कार्यवाही, मोदी ने दी आईएएस अधिकारियों को चेतावनी

31 जनवरी तक संपत्ति का दें ब्योरा वरना होगी कार्यवाही, मोदी ने दी आईएएस अधिकारियों को चेतावनी

नई दिल्ली | भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) के सभी अधिकारियों से अगले महीने तक अपनी संपत्तियों का ब्योरा देने को कहा गया है और यह चेतावनी भी दी गयी है कि ऐसा नहीं होने पर उनकी प्रमोशन और विदेशी पदस्थापनाओं (विदेशों में पोस्टिंग) के लिए जरूरी सतर्कता मंजूरी नहीं दी जाएगी। कार्मिक और प्रशिक्षण विभाग (डीओपीटी) ने केंद्र सरकार के सभी विभागों, राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को पत्र लिखकर उनसे आईएएस अधिकारियों द्वारा 31 जनवरी, 2018 तक अचल संपत्ति रिटर्न (आईपीआर) जमा कराने को कहा है।

संस्थापन (इस्टेब्लिशमेंट) अधिकारी और अतिरिक्त सचिव पी के त्रिपाठी ने हाल ही में एक संदेश में कहा, ”डीओपीटी के चार अप्रैल, 2011 के निर्देशों के अनुरूप यह दोहराया जाता है कि आईपीआर समय पर जमा नहीं होने पर सतर्कता मंजूरी नहीं दी जाएगी। 2011 के निर्देशों के अनुसार जिन अधिकारियों ने एक जनवरी, 2018 तक समय पर अपने आईपीआर जमा नहीं किये उन्हें सतर्कता मंजूरी नहीं दी जाएगी और भारत सरकार में वरिष्ठ स्तर के पदों के लिए पदोन्नति के लिहाज से उनके नाम पर विचार नहीं किया जाएगा।

हमारे गाज़ियाबाद में भी ऐसे कई आईएएस और आईपीएस अधिकारी तैनात हैं जिन्होंने अभी तक अपनी आईपीआर जमा नहीं कराई है। ऐसा नहीं है कि आम जनता को इन अधिकारियों के बारे में पता नहीं है, मगर बदले की कार्यवाही से लोग डरे हुए हैं। अब समय आ गया है कि शहर के जागरूक नागरिक इन भ्रष्ट अधिकारियों के खिलाफ जनसुनवाई जैसे साधनों से सीधे मुख्यमंत्री से शिकायत करें।

आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।

By हमारा गाज़ियाबाद ब्यूरो : Thursday 26 अप्रैल, 2018 13:31 PM