ताज़ा खबर :
prev next

काम किसी का और नाम किसी का – मजेंटा मेट्रो के उद्घाटन पर अखिलेश का तंज़

काम किसी का और नाम किसी का – मजेंटा मेट्रो के उद्घाटन पर अखिलेश का तंज़

लखनऊ | प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा सोमवार को नोएडा मेट्रो की मैजेंटा लाइन के उद्घाटन पर तंज कसते हुए सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा, काम किसी और का, नाम कोई और ले जाता है। उन्होंने ट्वीट कर योगी सरकार पर निशाना साधा है। सपा के राष्ट्रीय सचिव राजेन्द्र चौधरी ने कहा है कि सोमवार को नोएडा में जिस मेट्रो का उद्घाटन किया गया, उसका उद्घाटन पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने 15 दिसंबर 2016 को ही कर दिया था।

चौधरी ने कहा कि भाजपा सरकार का यह रवैया नया नहीं है। लखनऊ में भी जब मेट्रो रेल का उद्घाटन किया गया था तब पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव का नाम नहीं लिया गया था। ऐसे ही गोरखपुर में एम्स के लिए सपा सरकार ने मुफ्त जमीन दी थी। उसके शिलान्यास के मौके पर भी भाजपा सरकार ने न तो पूर्व सीएम का नाम लिया और न ही उन्हें आमंत्रित किया। उन्होंने कहा कि भाजपा सत्ता में आकर दम्भ में डूब गई है। अपने अहंकार में वह अपने पूर्ववर्ती के प्रति सम्मान भाव का प्रदर्शन करना भी उचित नहीं समझ रही है। यह लोकतंत्र के लिए शुभ नहीं है। पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की यही विशेषता है कि वे जब सत्ता में थे तब भी विनम्र और शालीन रहे।

किसी भी सरकार का कार्यकाल अधिकतम पाँच साल का होता है तो क्यों न सत्तारूढ़ दल इस प्रकार काम करे कि उसके सभी काम पाँच साल की अवधि में ही पूरे हो जाएँ। चाहे कोई भी राजनैतिक दल हो, हमारे यहाँ सरकारें अपने कार्यकाल के पहले चार साल सत्ता का सुख भोगती हैं और पांचवें साल में जाकर उन्हें जनता से किए हुए वादे याद आते हैं। इसके बाद शुरू होता है ताबड़तोड़ शिलान्यासों और आधारशिलाओं का सिलसिला जो चुनाव आयोग द्वारा अगले चुनाव की घोषणा वाले दिन तक जारी रहता है। अगर अपने कामों का श्रेय लेना है तो कामों को कार्यकाल के दौरान ही खत्म करें और व्यर्थ की बहस को विराम दें।

आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।

By हमारा गाज़ियाबाद ब्यूरो : Thursday 22 फ़रवरी, 2018 04:26 AM