ताज़ा खबर :
prev next

खुले में शौच पर नहीं लग पा रही लगाम, कौन है जिम्मेदार निगम या नागरिक…?

खुले में शौच पर नहीं लग पा रही लगाम, कौन है जिम्मेदार निगम या नागरिक…?

गाज़ियाबाद। जबतक लोगों के विचारों में परिवर्तन नहीं होगा स्वच्छ भारत अभियान मिशन कभी पूरा नहीं होगा। गोविंदपुरम के नाले व झाड़ियां इन दिनों खुले में शौच क्षेत्र बने हुए हैं। इस इलाके में जहां-तहां झुग्गियां हैं। उनमें रहने वाले शौच के लिए नालों और आसपास मौजूद झाड़ियों का प्रयोग कर रहे हैं। वहीं शहरी क्षेत्र को खुले में शौच मुक्त बनाने की जिम्मेदारी नगर निगम की है लेकिन निगम की ओर से इस ओर ध्यान नहीं दिया जा रहा।

जिले की ग्राम पंचायतें खुले में शौच मुक्त हो चुकी हैं। लोग फिर से शौच करने बाहर न जाएं, इसके लिए बकायदा निगरानी टीमें वहां लगी हुई हैं। लेकिन शहरी क्षेत्र में नगर निगम की ओर से न तो जागरूक करने की कोई व्यवस्था की गई है और न ही निगरानी की।

झुग्गियां बनाकर अवैध रूप से रह रहे लोगों के खिलाफ प्रशासन को कार्रवाई करनी चाहिए। क्योंकि झुग्गियों में रह रहे लोगों द्वारा खुले में शौच, बिजली चोरी व अन्य काम अवैध रूप से किये जाते हैं। नगर निगम को भी टीम बनाकर आवश्यक जगहों पर शौचालय का निर्माण करवाना चाहिए।

हमारा गाज़ियाबाद के एंड्राइड ऐप के लिए आप यहाँ क्लिक कर सकते हैंआप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।

By प्रगति शर्मा : Thursday 22 फ़रवरी, 2018 04:22 AM