ताज़ा खबर :
prev next

तंबाकू उत्पादों के पैकेट पर चित्रात्मक चेतावनी मामले में सुप्रीम कोर्ट की सुनवाई आज

तंबाकू उत्पादों के पैकेट पर चित्रात्मक चेतावनी मामले में सुप्रीम कोर्ट की सुनवाई आज

नई दिल्ली सिगरेट और तंबाकू के पैकेट पर चेतावनी की तस्वीर को लेकर आज सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई होगी सुप्रीम कोर्ट याचिका पर सुनवाई को तैयार हो गया है बता दें कि 15 दिसंबर को कर्नाटक हाई कोर्ट ने केंद्र के 2014 के संशोधन के नियम को रद्द कर दिया था जिसमें 85 फीसदी चेतावनी तस्वीर छापने की नियम था इससे पुराना नियम प्रभावी हो गया जिसके अनुसार 40 फीसदी ही तस्वीर छापी जाएगी

इसी बीच बता दें कि तंबाकू उत्पादों के 1,000 से ज्यादा खुदरा विक्रेताओं ने गुरुवार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के बाहर विरोध प्रदर्शन किया इन विक्रेताओं ने सिगरेट के पैकेटों पर 85 फीसदी जगह पर चित्र सहित दी जाने वाली चेतावनी को कम करने की मांग की है

अखिल भारतीय पान वितरक संघ के बैनर तले प्रदर्शन कर रहे खुदरा विक्रेताओं के अनुसार देशभर में तंबाकू उत्पादों की तस्करी चित्र सहित चेतावनी के आने के बाद बढ़ी है, क्योंकि तस्करी के सिगरेट के पैकेटों पर इस तरह की चेतावनी नहीं होती। पान वितरक संघ देश बर के 75 लाख खुदरा विक्रेताओं का प्रतिनिधित्व करता है

सुझाव- तम्बाकू कम्पनियां आकर्षक बनाने के लिए पैकेजिंग तथा अन्य विज्ञापनों के रूप में हथकण्डे अपनाती हैं एवं साथ ही साथ तम्बाकू किस प्रकार स्वास्थ्य से खिलवाड़ करती है, इस कटु सत्य से ध्यान भी हटाती हैं। तम्बाकू सेवन के नुकसान से सम्बन्धित चेतावनी के चित्र खतरों को बताने तथा, जैसे कि सेवन छोड़ने या कम करने के लिए व्यावहारिक बदलाव के लिए प्रोत्साहित करने में विशेष रूप से प्रभावी होते हैं। लेकिन इसके बावजूद भी लोग इसका सेवन करते है। ध्यान दें तम्बाकू का सेवन जानलेवा है जल्द से जल्द इसके खतरनाक आदतों से खुद को मुक्त कराएँ।

 

हमारा गाज़ियाबाद के एंड्राइड ऐप के लिए आप यहाँ क्लिक कर सकते हैंआप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।