ताज़ा खबर :
prev next

सड़क हादसे में नौ की मौत 40 घायल, घना कोहरा बना जानलेवा

सड़क हादसे में नौ की मौत 40 घायल, घना कोहरा बना जानलेवा

कानपुर | बृहस्पतिवार सुबह का घना कोहरा कई परिवारों में मातम फैला गया। कोहरे के कार्न कानपुर और आसपास के इलाकों में हुई सड़क दुर्घटनाओं में न सिर्फ नौ लोगों की जान गई बल्कि 40 से ज्यादा लोग घायल भी हो गए। कई घायलों की जान अभी भी खतरे में है।
कानपुर में महाराजपुर थाना क्षेत्र में इलाहाबाद हाईवे पर सुबह कई वाहन आपस में टकरा गए। हादसे में 10 से ज्यादा लोगों को चोटें आई। क्षतिग्रस्त वाहनों से जाम लग गया जिसे खुलवाने में पुलिस को पसीना आ गया। कानपुर के बिल्हौर में ट्रक से टकराए बाइक सवार दो युवकों की मौत हो गई। ट्रक में बाइक फंसने से आग लग गई। बांदा में तिंदवारी थाने के जसईपुर गांव में अज्ञात वाहन की टक्कर से किसान की मौत हुई जबकि जसपुरा क्षेत्र के भाथा गांव में डीसीएम पलटने से क्लीनर की जान चली गई।
हमीरपुर में राठ-पनवाड़ी मार्ग पर तेज रफ्तार ट्रक ने सामने से आ रही टैक्सी को टक्कर मार दी। टैक्सी सवार एक युवक की मौके पर ही मौत हो गई और पांच यात्री घायल हो गए। हमीरपुर कोतवाली क्षेत्र के चंदौखी गांव के पास कोहरे में तीन ट्रकों की आपस में जबरदस्त टक्कर हुई। कई लोगों को चोटें आईं, दुर्घटना के बाद एनएच-86 में तीन घंटे तक लंबा जाम लगा रहा। उरई में नेशनल हाईवे पर एट थाना क्षेत्र के सोमई गांव में बाइकों से भरा तेज रफ्तार कंटेनर सुबह आगे जा रहे ट्रक से जा टकराया और पीछे से आ रही एंबुलेंस कंटेनर में पीछे से टकरा गई। कंटनेर में आग लगने से हड़कंप मच गया। फतेहपुर में हुसेनगंज-कड़ा मार्ग पर गुरुवार सुबह अज्ञात वाहन ने बाइक सवार दो लोगों को कुचल दिया। दोनों की इलाज के दौरान मौत हो गई। फतेहपुर में ही कोहरे के कारण हाईवे में आधा दर्जन वाहन एक-दूसरे से टकरा गए जिसमें कई लोग घायल हो गए। वाहनों के क्षतिग्रस्त होने से हाइवे पर एक घंटे तक जाम लगा रहा। उन्नाव में अलग-अलग हादसों में आवारा मवेशियों को बचाने के फेर में दो बाइक सवार युवकों की हादसे में जान चली गई।
हमारी सलाह –
यदि संभव हो तो सर्दी के मौसम में देर रात या सुबह सवेरे सफर पर न निकलें। कोहरे की स्थिति में गाड़ी अधिक स्पीड पर न चलाएं और आगे चल रहे वाहनों से थोड़ी दूरी बनाते हुए चले। अपने वाहनों में फॉग लाइट अवश्य लगाएँ और हाई बीम पर लाइटें न जलाएँ। कोहरे में हाई बीम पर लाइट रखने से लाइट रिफ्लैक्ट होकर आपकी आँखों को है चौंधिया देगी। गाड़ी एक कतार में चलाएं और जब तक जरूरी न हो ओवरटेक न करें। विपरीत दिशा (रोंग साइड) में गाड़ी न चलाएं। यदि सड़क पर कोई दुर्घटना दिखाई देती है तो घायलों की मदद करें।

आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।

By हमारा गाज़ियाबाद ब्यूरो : Monday 22 जनवरी, 2018 12:06 PM Updated