ताज़ा खबर :
prev next

बंद समर्थकों ने नहीं दिया एंबुलेंस को रास्ता, तड़प कर रास्ते में ही मरीज ने दे दी जान

बंद समर्थकों ने नहीं दिया एंबुलेंस को रास्ता, तड़प कर रास्ते में ही मरीज ने दे दी जान

कटिहार | बिहार में राष्ट्रीय जनता दल का बंद एक पर के लिए जानलेवा साबित हुआ है। कटिहार में बंद समर्थकों के रास्ता रोके जाने के कारण इलाज में हुई देरी से एक सरकारी सेवक की मौत हो गई। मृतक का नाम संतोष झा बताया जाता है जो कि इलाज के लिये अस्पताल में पहुंचने में लेट हो गये। लेट होने से कोढ़ा अंचल कार्यालय के प्रधान सहायक संतोष झा की रास्ते में ही तड़प-तड़प कर मौत हो गयी। बताया जा रहा है की कटिहार के ही जगरनाथ पुरी के रहने वाले संतोष झा रात से ही बीमार चल रहे थे। अचानक तबियत बिगड़ने पर उन्हें कटिहार मेडिकल कॉलेज ले जाने की कोशिश की गई मगर जाम के कारण परिजनों को मजबूर हो कर फिर सदर अस्पताल के रुख करना पड़ा।

यहां भी राजद कार्यकर्ताओ ने उन्हें सड़क पर रोक दिया। बंद समर्थकों ने काफी समझाने और विनती करने के बाद जब तक अंचल कर्मी को लेकर परिजन सदर अस्पताल पहुंचते तब तक संतोष झा की मौत हो चुकी थी। अब परिजन इस जानलेवा बंद को कोस रहे हैं जिसके कारण संतोष की तड़प – तड़प कर मौत हो गई।

आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।

By हमारा गाज़ियाबाद ब्यूरो : Tuesday 24 अप्रैल, 2018 12:31 PM