ताज़ा खबर :
prev next

फीस रेगुलेटरी बिल के खिलाफ 17 दिसंबर को हल्ला बोलेंगे अभिभावक

फीस रेगुलेटरी बिल के खिलाफ 17 दिसंबर को हल्ला बोलेंगे अभिभावक

गाज़ियाबाद। प्रदेश सरकार की ओर से प्राइवेट स्कूलों की मनमानी पर अंकुश लगाने के लिए बने फीस रेगुलेटरी बिल के प्रारूप का गाजियाबाद पैरंट्स असोसिएशन ने विरोध किया है। संस्था ने आरोप लगाया है कि इस प्रारूप में स्कूलों की मनमानी पर अंकुश लगाने के बजाय उन्हें अपनी फीस निर्धारित करने का अधिकार दे दिया गया है।

मीडिया सेंटर पर आयोजित प्रेसवार्ता में असोसिएशन के सत्यपाल चौधरी, सीमा त्यागी, नीरज भटनागर और सलिल अग्रवाल ने कहा कि संविधान के आर्टिकल (21अ) के अनुसार शिक्षा हर एक का अधिकार है लेकिन राजनीति संरक्षण के कारण प्राइवेट स्कूल इसका उल्लंघन कर रहे हैं। फीस रेगुलेटरी बिल का जो प्रारूप तैयार किया गया है, उससे यह बात साफ भी हो जाती है। इस प्रारूप में ना तो बच्चों की सुरक्षा पर ही ध्यान दिया गया है और ना स्कूलों की फीस पर अंकुश लगाने का ही नियम बनाया गया है।

लखनऊ में हुई बैठक में असोसिएशन ने स्कूलों की मनमानी रोकने के लिए कुछ सुझाव दिए थे, जिन्हें पूरी तरह से नजरअंदाज करने का इन लोगों ने आरोप लगाया है। असोसिएशन के सदस्यों ने कहा कि इसका विरोध किया जाएगा और रविवार 17 दिसंबर को हल्ला बोल कार्यक्रम का आयोजन भी किया जाएगा। जिसमें गाजियाबाद, नोएडा, बुलंदशहर आदि जिलों के अभिभावक भाग लेंगे। प्रेस वार्ता में अखिलेश सिंह, संजय पंडित, साधना सिंह, मोनिका, मनीष शर्मा, विवेक त्यागी आदि मौजूद रहे।

 

 

 

हमारा गाज़ियाबाद के एंड्राइड ऐप के लिए आप यहाँ क्लिक कर सकते हैंआप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।