ताज़ा खबर :
prev next

जानिए हेलमेट की शुरूआत और उससे फायदे…

जानिए हेलमेट की शुरूआत और उससे फायदे…

गाज़ियाबाद। आप सभी जानते हैं कि हर देश में दोपहिया वाहन चलाने के लिए और पीछे बैठने वाले दोनों के लिए हेलमेट जरूरी है। लेकिन अकसर देखा यह जाता है कि लोग बिना हेलमेट लगाये ही मोटरसाईकिल या किसी दोपहिया वाहन चला रहें है। हेलमेट सुरक्षात्मक गियर का एक रूप है जिसे सिर की रक्षा के लिए पहना जाता है। हेलमेट का उपयोग विभिन्न कार्यों के लिए किया जाता है जैसे हॉकी, रेसिंग, फुटबॉल, क्रिकेट, बेसबॉल, निर्माण, खनन, दंगा पुलिस और खास कर इसका उपयोग परिवहन जैसे मोटरसाइकिल हेलमेट और साइकिल आदि  के दौरान किया जाता है।

हेलमेट पूरे सिर को कवर करता है और अक्सर गले और गर्दन की रक्षा के लिए उपयोगी होता है। मूल रूप से कड़ी धूप  से बचाकर सिर की रक्षा करता हैं। 20 वीं शताब्दी के अंत में न्यूरोसर्जन द्वारा आंतरिक सिर संरचना को देखते हुए एनाटॉमिकल हेलमेट का आविष्कार किया गया था।पहली मोटरसाइकिल हेलमेट जो 1950 के दशक में तैयार किया गया। जो सैन्य हेलमेट और पुलिस हेलमेट के रूप में इस्तेमाल किया गया। आज, यह पूरे विश्व भर में उपयोग किया जा रहा हैं। 2000 के बाद से हेलमेट कई अलग-अलग आकर्षक रंगों व डिजाईन में तैयार किया जाने लगा।

सर्वप्रथम हेलमेट का उपयोग, 900 ईसा पूर्व में अश्शूरी सैनिकों द्वारा किया गया था। वे कुंद वस्तुओं से सिर की रक्षा के लिए मोटी चमड़े या कांस्य हेलमेट पहनते थे, जो गोलियों और पत्थरों से सिर को बचाता था। लेकिन अब अक्सर हल्के प्लास्टिक की सामग्री से यह तैयार किया जा रहा है, जिनका इस्तेमाल सभी जगहों पर यात्रिओं के लिए अनिवार्य हो चुका है। बाइक चलाने वाले के साथ ही पीछे बैठने वाली सवारी के लिए भी हेलमेट लगाना अनिवार्य कर दिया गया है। प्रदेश सरकार के निर्देश के बाद अब प्रत्येक बुधवार को परिवहन विभाग व पुलिस एक साथ मिलकर हेलमेट व सीटबेल्ट न लगाने वालों के खिलाफ अभियान चला रही है।

हेलमेट पहनने से फायदे 

यह किसी हादसे की स्थिति में सिर को किसी भी तरह से नुकसान पहुचाने वाली चीजों से बचाता है, जैसे कोई पत्थर, कील, नुकीली तार, कंकड़ आदि से बचाता है।

हेलमेट में लगा कुशन शाक अब्जार्वर की तरह काम करता है और होनी वाले चोट को बहुत कम कर देता है ।

सिर के बीच में हवा की मात्रा को बढ़ा देता है जिससे चोट कम लगती है।

 

 

आशा करते हैं जानकारी आप को अच्छे से समझ में आ गई होगी. अगर आपको जानकारी अच्छी लगी है तो आप अपने दोस्तों पर शेयर करना ना भूले।