ताज़ा खबर :
prev next

सिटी की सभी सड़कों का डाटा होगा कंप्यूटर पर, ऑटोमेटिक मेसेज के जरिये चुटकियों में होगा काम

सिटी की सभी सड़कों का डाटा होगा कंप्यूटर पर, ऑटोमेटिक मेसेज के जरिये चुटकियों में होगा काम

गाज़ियाबाद। नगर निगम अब और भी स्मार्ट होने जा रहा है। सिटी के ले-आउट के हिसाब से शहर में डिजाइन सभी सड़कों का बाकायदा कंप्यूटर पर अकाउंट बनेगा। इसमें हर सड़क की कुंडली तैयार की जाएगी। इसके तहत सड़क की लंबाई, चौड़ाई और उसे कब कितने खर्च में बनाया गया, किस कंपनी ने इसे तैयार किया, इसका पूरा डेटा अपलोड किया जाएगा।

नगर निगम क्षेत्र में करीब 20 लाख की आबादी है। शहर का क्षेत्रफल तेजी से पैर पसार रहा है। ऐसे में नई कॉलोनियां बन रही हैं, जिनके लिए नई सड़कें तैयार की जा रही हैं। शहर में हर साल सैकड़ों सड़कें बनती हैं और टूट भी जाती हैं। नगर निगम के पास इस तरह का ऐसा कोई कंप्यूटराइज्ड डेटा नहीं है कि कौन सी सड़क कब बनी और कब टूट गई। इस तरह की समस्या न हो इसके लिए नई प्लानिंग तैयार की गई है।

निगम अब सिटी की तमाम सड़कों का ले-आउट तैयार करेगा। कॉलोनी वार सब सड़कों की नंबरिंग होगी। सड़क की नंबरिंग कर उसका एक कंप्यूटराइज्ड अकाउंट होगा। इसमें सड़क की कॉलोनी का नाम, सड़क का नंबर, उसकी लंबाई और चौड़ाई, कब किस ठेकेदार कंपनी ने सड़क बनाई। अनुबंध के हिसाब से कब तक कंपनी इसको मेंटेन करेगी। इसका पूरा डेटा कंप्यूटर में फीड होगा।

कंप्यूटर पर सिटी की हर सड़क की कुंडली तैयार होने के बाद टेंडर की डबलिंग की समस्या दूर हो जाएगी। सड़क बनाने का निश्चित समय तय होने के बाद कंप्यूटर पर ऑटोमेटिक मेसेज मिलेगा कि यह सड़क तीन वर्ष पूर्व बनी थी।

हमारा गाज़ियाबाद के एंड्राइड ऐप के लिए आप यहाँ क्लिक कर सकते हैंआप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।

By प्रगति शर्मा : Thursday 23 नवंबर, 2017 12:54 PM