ताज़ा खबर :
prev next

प्रेम प्रसंग में आकर देवर-भाभी ने खाया जहर, हालत गंभीर

प्रेम प्रसंग में आकर देवर-भाभी ने खाया जहर, हालत गंभीर

गाज़ियाबाद। मुरादनगर थाना क्षेत्र अंतर्गत सैंथली गांव में प्रेम-प्रसंग के चलते सोमवार को देवर-भाभी ने जहरीला पदार्थ खाकर जान देने की कोशिश की। पति उनके प्रेम-प्रसंग का विरोध कर रहा था। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों को गंभीर हालत में आईटीएस अस्पताल में भर्ती कराया है। यहां दोनों की हालत नाजुक बताई जा रही है।

भोवापुर गांव निवासी महिला की शादी आठ साल पहले कनौजा गांव निवासी एक व्यक्ति के साथ हुई थी। शादी के दो माह बाद ही महिला का अपने देवर के साथ प्रेम-प्रसंग हो गया। पति को आठ साल तक दोनों के प्रेम-प्रसंग की भनक नहीं लग सकी। सात माह पहले पति ने दोनों को आपत्तिजनक हालत में पकड़ा तो उनके प्रेम-प्रसंग की पोल खुल गई। गुस्साए पति ने महिला के साथ मारपीट कर दी। लेकिन पत्नी देवर के साथ शादी करने की जिद पर अड़ गई।

देवर से शादी नहीं होने पर पत्नी अपने मायके चली गई। छह माह पहले सास व ससुर महिला को लेने के लिए उसके मायके चले गए। महिला उनके सामने देवर के साथ शादी करने की शर्त रख दी। काफी जद्दोजहद के बाद सास-ससुर ने महिला को साथ ले जाने के लिए देवर से शादी कराने की हामी भर दी। घर लाने के बाद सास-ससुर ने शादी कराने से इन्कार कर दिया। इस बीच अगले दिन महिला देवर के साथ फरार हो गई। पिछले छह माह से शादी किए बगैर देवर-भाभी अपने दो बच्चों के साथ पति-पत्नी के तौर पर सैंथली गांव में किराए के मकान में रह रहे थे।

पति व ससुर सोमवार को महिला को लेने के लिए सैंथली गांव पहुंच गए। पति ने पत्नी से दोनों बच्चों सहित साथ चलने के लिए कहा। महिला ने पति के साथ जाने से इन्कार कर दिया। पति ने महिला और अपने भाई की शिकायत पुलिस चौकी में कर दी। पुलिस ने देवर-भाभी को चौकी बुलाकर पूछताछ की। पुलिस के सामने महिला ने देवर के साथ रहने की इच्छा जाहिर की। इसके बाद पुलिस ने दोनों को घर भेज दिया। लेकिन इसके बावजूद भी पति दोनों बच्चों को अपने साथ ले जाने की जिद पर अड़ा रहा।

देवर ने दोनों बच्चो को अपनी औलाद बताते हुए भाई को घर से भगा दिया। इस दौरान पति ने महिला के साथ मारपीट कर दी। इससे क्षुब्ध होकर देवर-भाभी ने जहरीला पदार्थ खा लिया। इस बारे में थानाध्यक्ष रणवीर ¨सह ने बताया कि इस संबंध में कोई तहरीर नहीं मिली है। मामले की जांच की जा रही है।

हमारा गाज़ियाबाद के एंड्राइड ऐप के लिए आप यहाँ क्लिक कर सकते हैंआप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।