ताज़ा खबर :
prev next

क्या जानते हैं आप “अज़ान” के बारे में ?

क्या जानते हैं आप “अज़ान” के बारे में ?

गाज़ियाबाद | आप अकसर अखबारों और टेलीविज़न पर लाउडस्पीकर से होती अज़ान के पक्ष और विपक्ष में होती बहस के बारे में देखते, पढ़ते और सुनते रहते हैं। यह बात सही है कि चाहे वह अजान हो या भजन, जरूरत से ज्यादा शोर हर किसी को बुरा लगता है। मगर क्या आप यह भी जानते हैं कि अज़ान क्या होती है और मुसलमानों के लिए अज़ान किस लिए जरूरी है। आइए जानते हैं अज़ान या अदान के बारे में।

इस्लाम में मुस्लिम समुदाय अपने दिन भर की पांचों नमाज़ों के लिए बुलाने के लिए ऊँचे स्वर में जो शब्द कहे जाते हैं, उन्हें अज़ान या अदान कहते हैं। अज़ान सुना कर लोगों को मस्जिद की तरफ़ बुलाने वाले को मुअज्ज़िन कहते हैं। मदीना तैयबा में जब नमाज़ बाजमात देने के लिए मस्जिद बनाई गई तो जरूरत महसूस हुई कि लोगों को जमात (इकटठे नमाज पढने) का समय करीब होने की सूचना देने का कोई तरीका तय किया जाए। रसूलुल्‍लाह ने जब इस बारे में सहाबा इकराम (मुहम्मद साहिब के अनुयायी) से परामर्श किया तो इस बारे में चार प्रस्ताव सामने आए जो इस प्रकार थे –

  • प्रार्थना के समय कोई झंडा बुलंद किया।
  • किसी उच्च स्थान पर आग जला दी जाए।
  • यहूदियों की तरह बिगुल बजाया जाए।
  • ईसाइयों की तरह घंटियाँ बजाई जाए।

ये सभी प्रस्ताव आंहज़रत को गैर मुस्लिमों से मिलते जुलते होने के कारण पसंद नहीं आए। इस समस्या में आंहज़रत और सहाबा इकराम चिंतित थे कि उसी रात एक अंसारी सहाबी हज़रत अब्दुल्लाह बिन ज़ैद ने स्वप्न में देखा कि किसी ने उन्हें अज़ान और इक़ामत के शब्द सिखाए हैं। उन्होंने सुबह सवेरे आंहज़रत सेवा में हाज़िर होकर अपना सपना बताया तो आंहज़रत ने इसे पसंद किया और उस सपने को अल्लाह की ओर से सच्चा सपना बताया।
आंहज़रत ने हज़रत अब्दुल्लाह बिन ज़ैद से कहा कि तुम हज़रत बिलाल को अज़ान इन शब्‍दों में पढने की हिदायत कर दो, उनकी आवाज़ बुलंद है इसलिए वह हर नमाज़ के लिए इसी तरह अज़ान दिया करेंगे। इसलिए उसी दिन से अज़ान की प्रणाली स्थापित हुई और इस तरह हज़रत बिलाल रज़ियल्लाहु अन्हु इस्लाम के पहले अज़ान देने वाले के रूप में प्रसिद्ध हुए।

 

(व्हाट्स एप के माध्यम से हमारी ख़बरें प्राप्त करने के लिए यहाँ क्लिक करें
हमारा गाज़ियाबाद के एंड्राइड ऐप के लिए आप यहाँ क्लिक कर सकते हैंआप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।