ताज़ा खबर :
prev next

प्रदूषण रोकने के लिए एनसीआर के शहर मिलकर बनाएँ कंट्रोल रूम

प्रदूषण रोकने के लिए एनसीआर के शहर मिलकर बनाएँ कंट्रोल रूम

नई दिल्ली | ग्रेडेड रेस्पोंस एक्शन प्लान (GRAP) के तहत मिलने वाली शिकायतों से निबटने और वायु प्रदूषण को नियंत्रण में रखने के लिए एनसीआर के सभी शहर मिलकर जल्द ही एक कंट्रोल बनाएँगे। सुप्रीम कोर्ट द्वारा स्थापित एनवायरनमेंट पोल्यूशन कंट्रोल एंड प्रीवेंशन अथॉरिटी (EPAC) ने दिल्ली, हरियाणा, राजस्थान और उत्तर प्रदेश की सरकारों को एक ऐसा कंट्रोल रूम बनाने के लिए कहा है जहां स्थानीय नागरिक प्रदूषण नियमों के उल्लंघन स्मबन्धित अपनी शिकायतें दर्ज करा सकें।
EPAC के चेयरमैन भूरे लाल ने राज्य सरकारों को लिखे अपने पत्र में कहा है कि कोर्ट के आदेशों के बावजूद इन सभी राज्यों से कूड़ा जलाने से लेकर जनरेटर सैटों, हॉट मिक्स प्लांटों और भवन निर्माण स्थलों पर ऐसी गतिविधियों कि खबरें आ रही हैं जिनके द्वारा वायु प्रदूषण हो रहा है। कमेटी चेयरमैन ने कहा की मौसम विभाग द्वारा की गई भविष्यवाणी के अनुसार आने वाले कुछ दिनों में वायु में नमी के साथ-साथ हवा का दबाव भी बढ़ेगा। ऐसे में संभावना व्यक्त की जा रही है कि एनसीआर क्षेत्र में वायु प्रदूषण एक बार फिर से खतरनाक स्तर पर पहुँच जाएगा। ऐसे में बहुत जरूरी है कि एक कंट्रोल रूम बना कर प्रदूषण करने वाले व्यक्तियों और संस्थाओं के खिलाफ मिलने वाली शिकायतों पर एक केंद्रीकृत प्रणाली के तहत कार्यवाही की जाए।

(व्हाट्स एप के माध्यम से हमारी ख़बरें प्राप्त करने के लिए यहाँ क्लिक करें
हमारा गाज़ियाबाद के एंड्राइड ऐप के लिए आप यहाँ क्लिक कर सकते हैंआप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।