ताज़ा खबर :
prev next

बैठकों में नहीं गाया जाएगा वंदे मातरम, मेरठ की मेयर ने गद्दी संभालते ही पलटा आदेश

बैठकों में नहीं गाया जाएगा वंदे मातरम, मेरठ की मेयर ने गद्दी संभालते ही पलटा आदेश

मेरठ | मेरठ नगर निगम बोर्ड में वंदे मातरम को लेकर नवनिर्वाचित बसपा की नई महापौर सुनीता वर्मा ने गद्दी संभालते ही पूर्ववर्ती भाजपा मेयर के फैसलों को बदलना शुरू कर दिया है। सुनीता वर्मा ने कहा कि नगर निगम की किसी भी बोर्ड बैठक में आगे से वंदे मातरम का गान नहीं होगा। उन्होंने कहा कि मेरठ में नगर निगम संविधान का पूर्ण रूप से पालन किया जाएगा। हालांकि विपक्ष पार्टी बीजेपी ने मेयर के इस फैसले का विरोध किया है.

दरअसल मेरठ नगर निगम की बोर्ड बैठक में राष्ट्रगीत वंदेमातरम के गान को लेकर अक्सर भाजपा के महापौर-पार्षदों और बसपा, सपा आदि दलों के मुस्लिम पार्षदों में अक्सर टकराव की स्थिति बनती थी। इसी साल मार्च में भाजपा के महापौर हरिकांत अहलूवालिया ने एक बोर्ड बैठक में वंदे मातरम नहीं गाने वाले पार्षदों की सदस्यता खत्म करने की चेतावनी देते हुए सदन में प्रस्ताव भी पास करा दिया था। नई महापौर के बयान की भाजपा ने कड़ी निन्दा करते हुए सड़कें पर उतरने की धमकी दी है।

गौरतलब है कि बहुजन समाज पार्टी ने निकाय चुनाव में सत्ता पर काबिज भारतीय जनता पार्टी को बड़ा झटका देते हुए मेरठ नगर निगम की सीट भाजपा से छीन ली थी। मेरठ नगर निगम के महापौर पद पर बसपा की सुनीता वर्मा ने भाजपा की कांता कर्दम को करीब 25 हजार वोट से हराया था। सुनीता वर्मा के पति पूर्व विधायक योगेश वर्मा हैं।

(व्हाट्स एप के माध्यम से हमारी ख़बरें प्राप्त करने के लिए यहाँ क्लिक करें
हमारा गाज़ियाबाद के एंड्राइड ऐप के लिए आप यहाँ क्लिक कर सकते हैंआप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।

By हमारा गाज़ियाबाद ब्यूरो : Thursday 14 दिसंबर, 2017 15:34 PM