ताज़ा खबर :
prev next

कमिश्नर की सख्ती बाद उमेश मोदी हुए नरम, बंद कम्पनियां चलाने को राज़ी

कमिश्नर की सख्ती बाद उमेश मोदी हुए नरम, बंद कम्पनियां चलाने को राज़ी

मोदीनगर | मंडलायुक्त डॉ. प्रभात कुमार की मोदीपोन पर सख्त सिफारिश के बाद अब मोदी ग्रुप के हाथ-पाँव फूल गए हैं। अरबों रुपये की जमीनें हाथ से जाते देख मोदी ग्रुप ऑफ़ इंडस्ट्रीज के मैनेजिंग डायरेक्टर उमेश मोदी ने बंद पड़ी कंपनियों को दुबारा से चलाने के लिए सहमती दे दी है। उमेश मोदी द्वारा जारी एक स्टेटमेंट के अनुसार यदि शासन स्तर से कोई आदेश आता है या एमके मोदी ग्रुप से उमेश मोदी ग्रुप का कोई समझौता हो जाता है तो वे बंद पड़े कारखानों को चलाने के लिए तैयार हैं।
बता दें की एम के मोदी ग्रुप ने कंपनी की जमीनों को बेच कर अब तक 250 करोड़ रुपया इधर उधर कर दिया है जबकि उन्हें कर्मचारियों का कई करोड़ रुपया वेतन, क्षत्रिपूर्ति और अन्य मदों में चुकाना बाकी है। कर्मचारियों ने आरोप लगाया था कि कंपनी के मालिक जमीनें बेचने से मिले पैसे का उपयोग अपने निजी हित के लिए कर रहे थे। मंडलायुक्त ने अपनी जांच में कर्मचारियों के आरोप को सही पाया और मोदीपोन कंपनी की बची हुई जमीन को अधिग्रहित कर मालिकों के खिलाफ एफआईआर की सिफारिश की थी।


गाज़ियाबाद को स्वच्छ रखने में सहयोग दें। नीचे दिए लिंक पर क्लिक कर स्वच्छता एप डाउनलोड करें और कूड़े के बारे में निगम को जानकारी दें।
https://play.google.com/store/apps/details?id=com.ichangemycity.swachhbharat&hl=en


(व्हाट्स एप के माध्यम से हमारी ख़बरें प्राप्त करने के लिए यहाँ क्लिक करें
हमारा गाज़ियाबाद के एंड्राइड ऐप के लिए आप यहाँ क्लिक कर सकते हैंआप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।