ताज़ा खबर :
prev next

बढ़ते प्रदूषण पर मंडलायुक्त हुए सख्त, मंडल में 31 जनवरी तक पटाखा बैन के दिए आदेश

बढ़ते प्रदूषण पर मंडलायुक्त हुए सख्त, मंडल में 31 जनवरी तक पटाखा बैन के दिए आदेश

गाज़ियाबाद। मंडल में बढते प्रदूषण व उसके प्रभाव को रोकने के लिए मंडलायुक्त प्रभात कुमार ने मंडल के सभी जिलाधिकारियों व प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अधिकारियों के साथ आयुक्त कार्यालय में बैठक की। बैठक की अध्यक्षता करते एनजीटी के आदेशों का पालन करते हुए 10 वर्ष से पुराने डीजल व 15 वर्ष से पुराने पेट्रोल वाहनों पर प्रतिबंध लगाने, मिटटी खनन को रोकने, बिना परमिट बिना परमिट के वाहनों को न चलने देने व ईंट भटटों को जिग-जेक टेक्नोलॉजी व प्रदूषण विभाग की एनओसी के साथ संचालित कराने के निर्देश दिए।

इसके साथ ही उन्होंने मण्डल में पटाखों पर 31 जनवरी 2018 तक प्रतिबंध लगाने के लिए निर्देश दिए गये। मंडलायुक्त ने एनजीटी द्वारा जारी आदेश जिसके अन्तर्गत एनसीआर में 10 वर्ष से पुराने डीजल व 15 वर्ष से पुराने पेट्रोल वाहनों को सड़क पर न चलने देने व नॉन डैजिकनेटिड ऐरिया में पार्किग नहीं करने के आदेशों को सख्ती से पालन सुनिश्चित करने के निर्देश अधिकारियों को दिए।

ठंड को देखते हुए प्राईमरी स्कूलों के समय में परिवर्तन करने, कार पुलिंग को प्रोत्साहित करने के लिए भी निर्देश दिए गये। प्रभात कुमार ने बताया कि निर्माण की जा रही जगह पर खुले में बिना ढके निर्माण सामग्री रखने पर पैनेल्टी का प्रावधान है जिसको प्रभावी ढंग से लागू किया जाए।

इस अवसर पर डीएम मेरठ समीर वर्मा, गौतमबुद्धनगर बीएन सिंह, गाजियाबाद रितु माहेश्वरी, हापुड़ कृष्ण करूणेश, बागपत भवानी सिंह, सीडीओ बुलन्दशहर जसजीत कौर, क्षेत्रीय अधिकारी यूपी पीसीबी नोएडा बीबी अवस्थी, एके तिवारी, मेरठ डा वाई कुमार, आरके त्यागी, एसए यूपीपीसीबी मुजफ्फरनगर एनएम त्रिपाठी, बुलन्दशहर अनिल कुमार, एईईयूपीपीसीबी गाजियाबाद अंकित सिंह आदि उपस्थित रहे।

हमारा गाज़ियाबाद के एंड्राइड ऐप के लिए आप यहाँ क्लिक कर सकते हैंआप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।