ताज़ा खबर :
prev next

जब आम आदमी ही हो गैर जिम्मेदार, तो क्या करेगी सरकार

जब आम आदमी ही हो गैर जिम्मेदार, तो क्या करेगी सरकार

गाज़ियाबाद। एक तरफ तो देश के प्रधान मंत्री द्वारा स्वच्छ भारत अभियान चलाया जा रहा है वहीँ स्वच्छ भारत के सपनो पर कुछ लोग कूड़े बिखेरने का काम भी कर रहे हैं । ये जानते हुए भी की अपने आस-पास की सफाई की जिम्मेदारी हमारी खुद की होती है कुछ लोग अपनी  जिम्मेदारियों से मुंह फेर उन जिम्मेदारियों से मुकर जाते हैं और उन कचरों को नजरंदाज़ करते हैं जो उनके घरों के पास फैले होते हैं।

इतना ही नहीं वे सड़क के किनारे पड़े कूड़े के ढ़ेर पर और कचरा लाकर भर देते हैं और इसके सफाई के लिए नगर निगम को दोष देते हैं। शर की सफाई और सुरक्षा की जिम्मेदारी न केवल सरकार या कानून की होती है बल्कि आम नागरिकों की भी होती है। छोटी-छोटी सी बात पर सरकार और कानून को दोष देने वाली जनता अपने मूल कर्तव्यों को भुलकर अपने साथ हो रही सभी अनहोनी घटनाओं का जिम्मेदार सरकार और कानून को ठहराती है।

क्या सड़क की सफाई की जिम्मेदारी हमारी जिम्मेदारी नहीं ? क्या सड़क पर हो रही दुर्घटनाओं के पीछे का कारण हमारा तेज रफ़्तार में वाहन चलाना, ट्रैफिक नियमों का पालन न करना और कानून को अपने हाँथ में लेना नहीं हैं ? अपने आँखों के सामने हम किसी व्यक्ति से लूट की वारदात होते देखते हैं लेकिन क्या कभी हमने उन बदमाशों का विरोध किया जो ऐसे घटनाओं को अंजाम देते हैं।

अपने साथ घाट रही अधिकांश घटनाओं के पीछे हमारा खोया हुआ आत्मबल, हमारी वैचारिक दुर्दशा और हमारे मनोबल का नीचे गिरना है। हर काम के लिए सरकार के द्वारा बनाए कानून को जिम्मेदार ठहराना हमारी फितरत बन चुकी है। अपने इसी विचारधारा को हमें बदलना होगा। जिस दिन हम एक सजग, सफल और जिम्मेदार नागरिक बनेंगे उस दिन हमारा और हमारे देश का विकास निश्चित है।

हमारा गाज़ियाबाद के एंड्राइड ऐप के लिए आप यहाँ क्लिक कर सकते हैंआप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।