ताज़ा खबर :
prev next

ध्यान से करें सुबह की सैर, स्मोग से पड़ सकते हैं लेने के देने

ध्यान से करें सुबह की सैर, स्मोग से पड़ सकते हैं लेने के देने

गाज़ियाबाद | शहर में मौसम के साथ-साथ पर्यावरण की स्थिति भी दिन-ब-दिन बिगड़ती ही जा रही है। वायु प्रदूषण के कारण लोगों का सांस लेना भी कठिन हो गया है। विश्व स्वास्थ्य संगठन की एक रिपोर्ट के मुताबिक गाज़ियाबाद कि आबोहवा में रहने वाले व्यक्तियों की आयु अन्य क्षेत्रों में रहने वालों के मुकाबले 6 साल कम हो चुकी है। सबसे विकट स्थिति ट्रांस हिंडन एरिया के कौशाम्बी इलाके में है।
शहर में लाखों लोग मोर्निंग वाक के लिए निकलते हैं। ऐसे लोगों को डॉक्टरों कि सलाह है कि बेहतर होगा वे घर के भीतर ही रहें क्योंकि स्मोग का सबसे ज्यादा असर सुबह के समय ही होता है। विभिन्न अस्पतालों से एकत्र की गई जानकारी के मुताबिक इन दिनों हर रोज सांस की बीमारियों से सम्बंधित 50-60 नए मामले मिल रहे हैं। छोटे बच्चे और बुजुर्ग व्यक्तियों पर दमे और साँस की बीमारियों के चपेट में आने का ज्यादा खतरा होता है। अतः बेहतर होगा कि वे घर से बाहर निकलते समय मास्क का प्रयोग करें या फिर नाक पर रुमाल बाँध कर ही बाहर निकले।


आप भी नीचे दिए गए लिंक से स्वच्छता एप डाउनलोड कर शहर को साफ रखने में अपना सहयोग दे सकते हैं।
https://play.google.com/store/apps/details?id=com.ichangemycity.swachhbharat&hl=en


(व्हाट्स एप के माध्यम से हमारी ख़बरें प्राप्त करने के लिए यहाँ क्लिक करें
हमारा गाज़ियाबाद के एंड्राइड ऐप के लिए आप यहाँ क्लिक कर सकते हैंआप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।