ताज़ा खबर :
prev next

डॉली शर्मा होंगी कांग्रेस की मेयर प्रत्याशी, महानगर अध्यक्ष की बेटी होना बनी प्रमुख योग्यता

डॉली शर्मा होंगी कांग्रेस की मेयर प्रत्याशी, महानगर अध्यक्ष की बेटी होना बनी प्रमुख योग्यता

गाज़ियाबाद | गाज़ियाबाद नगर निगम में मेयर की सीट महिलाओं के लिए आरक्षित होते ही सभी दलों में महिला कार्यकर्ताओं में एक उत्साह की लहर दौड़ गई थी। उन्हें लग रहा था कि आरक्षण के बहाने उन दर्जनों महिला नेताओं को पहचान मिलेगी जिन्होंने अपना जीवन सामाजिक और राजनैतिक कार्यों के लिए समर्पित कर दिया है। मगर जैसे-जैसे प्रमुख पार्टियां अपने मेयर कैंडिडेट्स घोषित करती जा रही हैं, स्थिति साफ़ होती जा रही है कि पार्टियों को समर्पित कार्यकर्ताओं की नहीं जिताऊ प्रत्याशियों कि ज्यादा जरूरत है। शायद यही कारण है कि टिकट वितरण में स्थानीय नेताओं कि पत्नियों, बहनों, पुत्रियों और पुत्रवधूओं का ही बोल बाला चल रहा है।
सबसे पहले समाजवादी पार्टी ने अपने स्थानीय व्यापारी नेता अभिषेक गर्ग कि पत्नी को मेयर पद का टिकट दिया तो अब कांग्रेस ने महानगर अध्यक्ष नरेंद्र भरद्वाज की बेटी डॉली शर्मा के नाम पर दांव खेला है। अभी तक घोषित दो प्रमुख दलों की इन मेयर प्रत्याशियों कि योग्यता उनका सामाजिक जीवन नहीं बल्कि प्रभाशाली नेताओं का सम्बन्धी होना है। कुछ ऐसी ही स्थिति भारतीय जनता पार्टी में भी है। वहां से भी किसी प्रभावशाली नेता की रिश्तेदार को ही टिकट मिलने की सम्भावना है। अब चाहे मेयर का चुनाव किसी भी दल कि महिला जीते, एक बात तो तय है कि उसकी भूमिका सिर्फ एक रबर स्टाम्प से ज्यादा कुछ नहीं होने वाली है। हमें ख़ुशी तब होगी कि जब ये महिलाएं चुनाव जीतने के बाद अपने खुद के विवेक पर जनता की भलाई के लिए काम कर हमें गलत साबित कर दें।

(व्हाट्स एप के माध्यम से हमारी ख़बरें प्राप्त करने के लिए यहाँ क्लिक करें
हमारा गाज़ियाबाद के एंड्राइड ऐप के लिए आप यहाँ क्लिक कर सकते हैंआप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।