ताज़ा खबर :
prev next

सड़कों पर उड़ती धूल के गुबार से लोगों का बुरा हाल

सड़कों पर उड़ती धूल के गुबार से लोगों का बुरा हाल

गाज़ियाबाद। शहर के कई इलाकों में टूटी सड़कें वायु प्रदूषण का कारण बन रही हैं। इन सड़कों पर जब भी वाहन दौड़ते हैं तो धूल उड़ने लगती है, जो लोगों को परेशान कर रही है। प्रदूषण विभाग के रीजनल ऑफिसर अजय शर्मा का कहना है कि सड़कों को ठीक करने के लिए नगर निगम और बाकी संबंधित अथॉरिटी को काम करना चाहिए, लेकिन वह काम नहीं कर रही। दिवाली के बाद भी हवा में धूल के महीन कण अब तक मौजूद हैं।

वहीं, वसुंधरा के कई सेक्टर में सड़कों की हालत काफी खराब है। कहीं गड्ढे हैं तो कहीं दरारें। बरसात के दिनों में इन गड्ढों में पानी भी भर जाता है। कई साल से इन सड़कों पर काम नहीं हुआ है। आवास विकास ने वसुंधरा इलाके को बसाने के बाद इसे नगर निगम को हैंडओवर कर दिया था। अब निगम को यहां पर डिवेलपमेंट और खराब सड़कों को ठीक करने का काम करना है, मगर निगम ने यहां अब तक कोई काम नहीं किए हैं। बता दें, वसुंधरा के कुछ सेक्टर के लोगों ने सड़कों की हालत को देखते हुए एनजीटी में केस फाइल किया था। इसके बाद एनजीटी के निर्देश पर निगम ने इन सड़कों को बनवाया।

इसके अलावा कुछ महीने पहले कौशांबी में सीवर लाइन डालने के लिए सड़क को तोड़ा गया था। लेकिन अब तक इनको बनवाने का कोई काम नहीं हुआ है। सड़क टूटी होने की वजह से यहां दिन भर धूल उड़ती रहती है। सड़क को दोबारा बनवाने के लिए यहां काफी समय से रोड़ियां भी पड़ी हैं। कुछ इसी तरह का हाल वैशाली इलाके का भी है। कई सेक्टरों में लंबे समय से सड़कों का निर्माण नहीं किया गया है। खराब सड़कों पर जब भी वाहन गुजरते हैं तो काफी धूल उड़ती है।

 

 

हमारा गाज़ियाबाद के एंड्राइड ऐप के लिए आप यहाँ क्लिक कर सकते हैंआप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।