ताज़ा खबर :
prev next

शहर को खुले में शौच मुक्त करने के लिए बनाये जा रहे पब्लिक टॉयलेट्स, मिलेगी राहत

शहर को खुले में शौच मुक्त करने के लिए बनाये जा रहे पब्लिक टॉयलेट्स, मिलेगी राहत

गाज़ियाबाद। स्वच्छता अभियान के तहत नगर निगम ने शहर के विकास के लिए मैराथन मुहिम छेड़ दी है। नगर आयुक्त के सख्त आदेशों के बाद गाजियाबाद के सभी जोनों में सार्वजनिक और सामुदायिक शौंचालय बनवाने की कवायद शुरु कर दी गई है। इनको बनवाने का काम जोरों से शुरु कर दिया गया है, कुछ इलाकों में सामुदायिक शौंचालय बनकर तैयार भी हो चुके है व कुछ जगह कार्य प्रगति पर हैं।

स्वच्छता सर्वेक्षण 2018 के तहत गाजियाबाद नगर निगम शहर को स्वच्छता की प्रथम श्रेणी में लाना चाहता है। हाल ही में इसका ब्रांड एम्बेसडर सुरेश रैना को बनाया गया है। इसके अलावा आजकल नगर आयुक्त सीपी सिंह ने भी शहर के निरीक्षण के दौरान खुले में शौच करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही करते हुए उनसे जुर्माना वसूलने की प्रकिया शुरु कर रखी है।

गौरतलब है कि हमारा गाजियाबाद टीम के अथक प्रयासों के बाद भी ऐसा संभव हो पाया है क्यूंकि करीब दो महीने पहले शहर के शौंचालयों की स्थिति बद से बदतर थी। लिहाजा अब पुराने शौंचालयों को दुरुस्त कराने की प्रकिया भी शुरु कर दी गई है। सभी जोनों के प्रभारियों ने पब्लिक टॉयलेट्स को सही कराने की जिम्मेदारी ले ली है।

सामुदायिक शौंचालय बनवाने के क्रम में सभी जोनों को मिलाकर करीब 67 टॉयलेट्स बनवाए जा रहे हैं। इसके अलावा सार्वजनिक शौंचालय बनवाने का काम भी अलग-अलग क्षेत्रों में शुरु हो चुका है जिसमे नया गाजियाबाद रेलवे स्टेशन, राजनगर, एमएमजी अस्पताल, लिंक रोड, इंदिरापुरम, वसुंधरा आदि शामिल हैं।

यह जानकारी निर्माण विभाग के अधिशासी अभियंता संजय चौहान ने दी है। उम्मीद है नगर निगम की इस मुहिम से आम जनता को राहत मिलेगी और अपना गाजियाबाद खुले में शौच से मुक्त होगा।

हमारा गाज़ियाबाद के एंड्राइड ऐप के लिए आप यहाँ क्लिक कर सकते हैंआप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।