ताज़ा खबर :
prev next

निरीक्षण में गायब मिले सरकारी अफसर, डीएम ने एक माह का वेतन रोक कर माँगा स्पष्टीकरण

निरीक्षण में गायब मिले सरकारी अफसर, डीएम ने एक माह का वेतन रोक कर माँगा स्पष्टीकरण

गाज़ियाबाद। अपने सख्त प्रशासनिक रवैये के चलते डीएम रितु माहेश्वरी ने अब जिले के अफसरों की क्लास लगानी शुरू कर दी है। समय की पाबंद डीएम को कई शिकायतें मिली कि कई सरकारी अफसर समय से ऑफिस नही आते हैं। साथ ही वे अक्सर फाइलों को लटका देते हैं इसके चलते आमजन को परेशानी हो रही है।

इस पर डीएम ने आज गाज़ियाबाद के ज्वाइंट मजिस्ट्रेट अमित पाल शर्मा व अपर नगर मजिस्ट्रेट अतुल कुमार की टीम बनाकर सुबह 9:10 से 9:45 तक गाज़ियाबाद के विभिन्न अधिकारियों के कार्यालयों का निरीक्षण करवाया। जिसमे कई अधिकारियों के कार्यालय बंद मिले तो कई अधिकारी अपने कार्यालय में मौजूद नहीं मिले।

अधिशासी अभियंता, प्रथम निर्माण खंड जल निगम व सिंचाई विभाग का कक्ष बंद पाया गया। वहीँ अधिशासी अभियंता लोक निर्माण खंड-2, बीएसए, जिला पंचायत राज अधिकारी, व ग्रामीण अभियंत्रण सेवा अधिकारी अपने कार्यालय में मौजूद नहीं थे।

प्रदेश सरकार द्वारा जारी शासनादेश के मुताबिक, जिले के सभी अधिकारियों को सुबह 9 बजे से 11 बजे तक अपने कार्यालय में मौजूद रहकर जनसुनवाई करना है। इस पर डीएम ने उक्त अधिकारियों के अक्टूबर 2017 का वेतन रोकते हुए तीन दिन के भीतर स्पष्टीकरण भेजनें के निर्देश दिए हैं।

हमारा गाज़ियाबाद के एंड्राइड ऐप के लिए आप यहाँ क्लिक कर सकते हैंआप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।

By दुर्गेश तिवारी : Tuesday 23 जनवरी, 2018 19:27 PM