ताज़ा खबर :
prev next

ग्लोबल हंगर इंडेक्स में बांग्लादेश से भी पिछड़ा भारत, क्या इसका कारण बेतहाशा बढ़ती जनसँख्या भी नहीं ?

ग्लोबल हंगर इंडेक्स में बांग्लादेश से भी पिछड़ा भारत, क्या इसका कारण बेतहाशा बढ़ती जनसँख्या भी नहीं ?

नई दिल्ली | इंटरनेशनल फूड पॉलिसी रिसर्च इंस्टिट्यूट (IFPRI) द्वारा जारी एक लिस्ट में 119 देशों के वैश्विक भूख सूचकांक में भारत 100वें पायदान पर है। सवा करोड़ से भी अधिक जनसँख्या वाला हमारा भारत उत्तर कोरिया और बांग्लादेश जैसे देशों से पीछे है लेकिन पाकिस्तान से आगे है। IFPRI ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि बच्चों में कुपोषण की उच्च दर से देश में भूख का स्तर इतना गंभीर है और सामाजिक क्षेत्र को इसके प्रति मजबूत प्रतिबद्धता दिखाने की जरूरत है।

पिछले वर्ष भारत इस सूचकांक में 97वें स्थान पर था। IFPRI ने एक बयान में कहा, ‘119 देशों में भारत 100वें स्थान पर है और समूचे एशिया में सिर्फ अफगानिस्तान और पाकिस्तान उससे पीछे हैं। उन्होंने कहा, ‘31.4 के साथ भारत का 2017 का GHI (ग्लोबल हंगर इंडेक्स) गंभीर श्रेणी में है।

बेतहाशा बढ़ती जनसँख्या भी है एक कारण

भारत में भुखमरी की समस्या के सबसे बड़े कारणों में यहाँ की बेहिसाब और लगातार बढ़ती जनसँख्या भी है। हर साल लाखों की दर से बढ़ने वाली बढ़ने वाली जनता का पेट भरने के लिए सरकार की सभी योजनाएं ऊंट के मुंह में जीरा साबित हो रही है। हालत यह है कि आज यदि आप भारत के किसी भी हिस्से में खाना बांटने निकलते हैं तो पलक झपकते ही सैंकड़ों हाथ उठाए खड़े नज़र आते हैं। कहीं धार्मिक कारणों से तो कहीं अशिक्षा के कारण लोग परिवार नियोजन के उपाय नहीं अपनाते हैं। यदि भारत भुखमरी की समस्या से निदान पाना चाहता है तो केंद्र और राज्य सरकारों को जनसँख्या रोकने के लिए सख्त कानून बनाने ही होंगे। मगर देखना यह है कि वोट बैंक को नाराज न करने में लगे हमारे नेता यह कदम कब उठाते हैं।

हमारा गाज़ियाबाद के एंड्राइड ऐप के लिए आप यहाँ क्लिक कर सकते हैंआप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।

By हमारा गाज़ियाबाद ब्यूरो : Thursday 22 फ़रवरी, 2018 18:04 PM