ताज़ा खबर :
prev next

सरकारी डॉक्टरों ने की प्राइवेट प्रैक्टिस तो होगा रजिस्ट्रेशन रद्द

सरकारी डॉक्टरों ने की प्राइवेट प्रैक्टिस तो होगा रजिस्ट्रेशन रद्द

लखनऊ | यदि कोई सरकारी डॉक्टर किसी प्राइवेट नर्सिंग होम, अस्पताल या क्लिनिक में प्रैक्टिस करता हुआ पाया गया तो उसका रजिस्ट्रेशन रद्द कर दिया जायेगा। यही नहीं, सबंधित निजी हॉस्पिटल का लाइसेंस भी रद्द कर दिया जायेगा। सरकार ने सरकारी अस्पतालों और प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों में डॉक्टरों की उपस्थिति सुनिश्चित करने के लिए एक नोटिस जारी कर दिया है।

प्रदेश के प्रमुख सचिव (चिकित्सा व स्वास्थ्य) प्रशांत द्विवेदी ने बताया कि हमें सरकारी डॉक्टरों के प्राइवेट प्रैक्टिस करने की लगातार शिकायतें मिल रहीं है। इन शिकायतों की जांच की जा रही है और यदि कोई डॉक्टर प्राइवेट प्रैक्टिस करता हुआ पाया गया तो उसका लाइसेंस तो रद्द होगा ही, सम्बंधित निजी अस्पताल या नर्सिंग होम का लाइसेंस भी रद्द कर दिया जायेगा। यही नहीं, दोषी डॉक्टर से उसे अब तक मिले नॉन प्रैक्टिस एलाउंस की भी वसूली की जाएगी।

हमारा गाज़ियाबाद के एंड्राइड ऐप के लिए आप यहाँ क्लिक कर सकते हैंआप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।

By हमारा गाज़ियाबाद ब्यूरो : Thursday 22 फ़रवरी, 2018 04:29 AM