ताज़ा खबर :
prev next

अब नहाने के लिए गंगनहर में पानी के अन्दर बनेगा प्लेटफार्म

अब नहाने के लिए गंगनहर में पानी के अन्दर बनेगा प्लेटफार्म

गाज़ियाबाद। विभिन्न जिलों से गंगनहर छोटा हरिद्वार पर स्नान करने के लिए आने वाले लाखों श्रद्धालुओं के लिए अच्छी खबर है। गंगनहर में सुरक्षा की दृष्टि से पानी के भीतर स्नान करने के लिए प्लेटफार्म बनाया जाएगा। इसके अलावा पानी के भीतर स्थाई  बैरीकेडिंग भी कराई जाएगी। प्लेटफार्म व  बैरीकेडिंग निर्माण का काम शुरू कर दिया गया है।

दिल्ली-मेरठ हाईवे स्थित गंगनहर छोटा हरिद्वार दिल्ली-एनसीआर समेत विभिन्न जिलों के लिए आस्था का केंद्र है। छठ पूजा, गणपति विसर्जन, दुर्गा विसर्जन, विश्वकर्मा विसर्जन आदि पर्वो पर लाखों लोग छोटा हरिद्वार पहुंचकर गंगनहर में आस्था की डुबकी लगाते हैं। कांवड़ मेले में तो यहां पैर रखने तक को जगह नहीं मिलती। गर्मी में यहां सभी धर्मो के लोग स्नान करने पहुंचते हैं। श्रद्धालुओं की संख्या अधिक होने के कारण गंगनहर के दोनों घाट छोटे पड़ गए। लोगों की स्नान करते वक्त बहने से मौत होने लगी।

इस पर छोटा हरिद्वार स्थित शनि मंदिर के महंत मुकेश गोस्वामी व अन्य श्रद्धालुओं ने प्रशासन से घाटों के विस्तार करने की मांग की। पिछले दिनों स्नान करने वालों की सुरक्षा के मद्देनजर जीडीए के तरफ से दोनों घाटों की लंबाई बढ़ा दी गई। घाट पर अस्थाई  बैरीकेडिंग व स्नान करने के लिए चेन डाल दी गई, लेकिन इसके बावजूद भी गंगनहर में बहकर लोगों के मरने का सिलसिला नहीं थमा। पुलिस की कड़ी चौकसी में अप्रैल, मई, जून व जुलाई माह में दर्जनों लोगों की गंगनहर में बहने से मौत हो गई।

अब गंगनहर में स्नान करने वालों की सुरक्षा के पुख्ता बंदोबस्त करने का निर्णय लिया गया है। स्नान करने के लिए गंगनहर में पानी के भीतर प्लेटफार्म बनाया जाएगा। प्लेटफार्म पर खडे़ होकर श्रद्धालु स्नान कर सकेंगे। इसके अलावा स्थाई  बैरीकेडिंग का निर्माण कराया जाएगा। बैरीकेडिंग व प्लेटफॉर्म के निर्माण के लिए खुदाई का काम शुरू कर दिया गया है। गंगनहर स्थित शनि मंदिर के महंत मुकेश गोस्वामी ने बताया कि प्लेटफार्म व बैरिके¨डग के बनाने से हादसों पर अंकुश लग जाएगा।

हमारा गाज़ियाबाद के एंड्राइड ऐप के लिए आप यहाँ क्लिक कर सकते हैंआप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।