ताज़ा खबर :
prev next

शहीद शिशिर तिवारी पंचतत्व में विलीन, नहीं पहुंचे सांसद और अधिकारी

शहीद शिशिर तिवारी पंचतत्व में विलीन, नहीं पहुंचे सांसद और अधिकारी

गाजियाबाद | चीन की सीमा के पास एक हेलीकाप्टर दुर्घटना में शहीद हुए शिशिर तिवारी का शव रविवार सुबह उनके इंदिरापुरम स्थित आवास पर पहुंचा। यहाँ सबसे पहले उन्हें वायुसेना के जवानों ने गार्ड ऑफ़ ऑनर दिया और फिर हिंडन नदी के तट पर उनका अंतिम संस्कार किया गया।

दुखद है कि शहीद को श्रद्धांजलि देने के लिए न तो क्षेत्रीय सांसद जनरल (रि) वी. के सिंह पहुंचे और न ही कोई अधिकारी। साहिबाबाद क्षेत्र से विधायक सुनील शर्मा की अनुपस्थिति को लेकर भी लोगों में रोष था। सिटी मजिस्ट्रेट प्रदीप कुमार का कहना है कि शहीद शिशिर तिवारी के अंतिम संस्कार के विषय में कोई अधिकारिक जानकारी न होने के कारण अधिकारियों को पता नहीं चला। लेकिन शहीद तिवारी के परिवार के साथ दुःख बांटने के लिए योग गुरु बाबा रामदेव वहां मौजूद थे और उन्होंने अंतिम संस्कार होने तक शहीद के परिवार के साथ समय बिताया। सांसद जनरल (रि) वी. के सिंह के स्थानीय प्रतिनिधि संजीव शर्मा ने बताया कि जनरल साहब के पास भी शहीद के अंतिम संस्कार की कोई सूचना नहीं थी, यदि सूचना होती तो सांसद महोदय अवश्य मौजूद रहते।

इस दुर्घटना में विंग कमांडर विक्रम उपाध्याय, स्क्वाड्रन लीडर एस तिवारी, मास्टर वॉरंट ऑफिसर एके सिंह, सतीश कुमार, ई बालाजी, एचएन डेका और गौतम पंवार की मौत हो गई थी।

हमारा गाज़ियाबाद के एंड्राइड ऐप के लिए आप यहाँ क्लिक कर सकते हैंआप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।