ताज़ा खबर :
prev next

हरसांव के प्राइमरी स्कूल की हालत बद से भी बदतर, बच्चे उठाते हैं कूड़ा और करते हैं नाली की सफाई

हरसांव के प्राइमरी स्कूल की हालत बद से भी बदतर, बच्चे उठाते हैं कूड़ा और करते हैं नाली की सफाई

गाज़ियाबाद। देश के प्रधानमंत्री द्वारा सर्व शिक्षा अभियान चलाया जा रहा है पर क्या धरातल पर वह लागू हो पा रहा है। अब भी कई ऐसे गाँव और कोलोनियों के स्कूल हैं जिनकी हालत बदतर है। प्राइमरी स्कूल के बच्चों  को अच्छी शिक्षा तो दूर की बात है, स्कूल में उनकी सुरक्षा का भी ख्याल नहीं रखा जाता ।

गाज़ियाबाद के प्राइमरी स्कूल में बच्चों  के लिए पढ़ाई व उनके स्वास्थ्य और सुरक्षा की स्थिति को जानने के लिए हमारा गाज़ियाबाद न्यूज़ की टीम शुक्रवार को हरसांव गाँव के प्राथमिक विद्यालय पहुंची । इस स्कूल में कक्षा 1 से लेकर 5 तक की पढ़ाई होती है और इसमें लगभग 60 बच्चे पढ़ते हैं । स्कूल बंद होने के कारण टीम अन्दर नहीं जा सकी लेकिन आस-पास के लोगों से पूछताछ की । स्थानीय लोगों काहना है कि स्कूल में केवल दो ही सह अध्यापिका हैं  जिनके द्वारा स्कूल चलाया जा रहा है ।

आगे उन्होंने बताया कि स्कूल में पढ़ाई के नाम पर कुछ भी नहीं होता, टीचर बैठी होती हैं और बच्चे शोर करते हैं जिससे की आस-पास के लोगों को परेशानी होती है। स्कूल में पढने आए छोटे बच्चों से नाली साफ़ करवाई जाती, स्कूल साफ करवाया जाता है, चाय बनवाई जाती है और तमाम काम करवाए जाते हैं। कभी-कभी टीचरों के स्कूल देर से आने से बच्चों को देर तक बाहर ही खड़ा रहना पड़ता है।

वहीँ स्कूल के आगे रखे ईट कभी-कभी बचों के लिए जानलेवा साबित हो जाती है। बच्चों को कई बार इसकी वजह से चोट भी आई है।  एक स्थानीय निवासी ने बताया कि लगभग डेढ़ महीने पहले ही क्लास रूम में पढने के दौरान पंखा एक बच्ची के ऊपर गिर गया थाजिससे बच्ची घायल हो गई थी।

इस घटना के बाद गाँव के लोग काफी  आक्रोशित भी हुए पर कोई फ़ायदा नहीं  हुआ, कुछ दिन बाद स्कूल की स्थिति पहले की तरह ही  हो गई । पढाई न होने और बच्चों के स्वस्थ्य व सुरक्षा की व्यवस्था न होने के कारण गाँव के अधिकांश लोग अपने बच्चे को गाज़ियाबाद के प्राइवेट स्कूल में पढ़ाते हैं ।

सर्व शिक्षा अभियान के चलाए जाने के बावजूद बच्चों के भविष्य के साथ हो रहे ये खिलवाड़ केवल हरसांव में ही नहीं होता बल्कि कई ऐसे स्कूल हैं जहाँ बच्चों को अपनी जेब भरने का मोहरा बनाया जाता है, और उनके भविष्य को अंधकारमय बनाया जा रहा है।

हमारा गाज़ियाबाद की टीम आपसे अनुरोध करती है कि यदि आपके आस -पास किसी स्कूल में यदि इस तरह की कोई घटना होती हो तो आप हमें इस नंबर पर सूचना अवश्य दें 9650358408 । जिससे की बच्चों के भविष्य को अंधकारमय बनने से रोका जा सके। 

हमारा गाज़ियाबाद के एंड्राइड ऐप के लिए आप यहाँ क्लिक कर सकते हैंआप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।