ताज़ा खबर :
prev next

7 सालों बाद भी स्वच्छता की मिसाल पेश करता नेहरु मार्केट का ये सार्वजनिक शौचालय

7 सालों बाद भी स्वच्छता की मिसाल पेश करता नेहरु मार्केट का ये सार्वजनिक शौचालय

गाज़ियाबाद। शहर को स्वच्छ बनाने के लिए नगरनिगम जगह-जगह स्लोगन, पोस्टर, बैनर लगाकर स्वच्छता अभियान के प्रति लोगों को जागरुक कर रहा है। शहर के बड़े-बड़े मल्टीप्लक्स में भी स्वच्छ गाजियाबाद और सुंदर गाजियाबाद के विज्ञापन दिखाए जाते हैं। अभी हाल ही में कुछ स्कूली बच्चों ने भी जीडीए कार्यालय के बाहर फ्लाईओवर की दीवारों पर चित्रकारी करके स्वच्छ भारत अभियान में अपनी जगह बनाई है।

स्वच्छता अभियान के तहत हमारा गाज़ियाबाद की टीम द्वारा शहर के सार्वजनिक शौचालयों के निरीक्षण क्रम में हमने आपको तकरीबन 12 शौचालयों के बारे में बताया जो अपनी बदहाली पर रो रहे हैं। सार्वजनिक शौचालयों की इस बदहाली का कारण दूसरा कोई नहीं शहर की देखरेख करने वाला नगरनिगम ही है। लेकिन वहीं दूसरी तरफ ऐसे सार्वजनिक शौचालय भी मिले जो शायद स्वच्छता अभियान की श्रेणी में स्थान पाने लायक हैं।

ऐसा ही एक पब्लिक टॉयलेट नेहरु मार्केट में बना हुआ है। इस पब्लिक टॉयलेट की ख़ास बात ये कि यहाँ सुबह से लेकर शाम तक चार बार सफाई होती है। जैसा बाहर से दिखता है असलियत में अन्दर से भी वैसा ही है। इस सार्वजनिक शौचालय का उद्घाटन वर्ष 2010 में दमयंती गोयल ने किया था। 7 वर्ष बीत जाने के बाद भी ये भीतर से आधुनिक सुविधाओं से युक्त है।

शहर में कुछ ही मात्रा में बने इस तरह के पब्लिक टॉयलेट कहीं न कहीं नगर निगम द्वारा कराए गए अच्छे विकास कार्यों को दर्शाते हैं। नेहरु मार्केट के बीचो-बीच होने के नाते इसका इस्तेमाल करने वाले भी ज्यादातर अच्छे ही लोग आते हैं। भले ही नगर निगम को हम शहर में विकास कार्यों के प्रति लापरवाही बरतने के लिए कोसते हैं लेकिन ये भी सच है कि अगर हम शहर को देखने के लिए नजर के साथ नजरिया बदलें तो बहुत कुछ सुधर सकता है।

आइये स्वच्छ भारत अभियान का हिस्सा बनें और अपने गाज़ियाबाद को खुले में शौंच मुक्त करने में सहयोग देकर पब्लिक टॉयलेट का इस्तेमाल करें। 

हमारा गाज़ियाबाद के एंड्राइड ऐप के लिए आप यहाँ क्लिक कर सकते हैंआप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।