ताज़ा खबर :
prev next

भारत का पकिस्तान को करारा जवाब- आतंकिस्तान है पकिस्तान, मानवाधिकार सीखने की जरूरत नहीं

भारत का पकिस्तान को करारा जवाब- आतंकिस्तान है पकिस्तान, मानवाधिकार सीखने की जरूरत नहीं

नई दिल्ली। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शाहिद खाकान अब्बासी के संयुक्त राष्ट्र आमसभा में कश्मीर राग अलापने के बाद भारत ने करारा जवाब दिया है। संयुक्त राष्ट्र में भारत की फर्स्ट सेक्रेटरी एनएम गंभीर ने कहा, टेररिस्तान है पाकिस्तान। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान को ये स्वीकार लेना चाहिए कि कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है।

आम सभा में एनएम गंभीर ने कहा, पाकिस्तान में आतंकवादी खुलेआम घूमते हैं। दुनिया को उस देश से लोकतंत्र और मानवाधिकार की परिभाषा सीखने की जरूरत नहीं है जिस देश में आतंकी खुलेआम सड़कों पर घुमते हैं। ये वही देश है जिसने ओसामा बिन लादेन और मुल्ला उमर को शरण दी थी। कल तक आतंक को बढ़ावा देने वाले आज खुद को पीड़ित होने का दिखावा कर रहे हैं।

अब तक के इतिहास में साफ हो चुका है कि पाकिस्तान आतंक का पर्याय हो गया है। उन्होंने कहा पकिस्तान आतंक को पैदा कर उसे पाल-पोस रहा है और वैश्विक स्तर पर इसे फैला रहा है।

इससे पहले पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शाहिद खाकान अब्बासी ने संयुक्त राष्ट्र आमसभा में कश्मीर का मुद्दा छेड़ा है था। उन्होंने संयुक्त राष्ट्र के मंच से कश्मीर में विशेष दूत तैनात करने की मांग की थी। पाकिस्तान के पीएम ने आरोप लगाया कि था कि, कश्मीर में भारत लोगों के साथ अत्याचार कर रहा है, सेना की मदद से लोगों को कुचला जा रहा है।

हमारा गाज़ियाबाद के एंड्राइड ऐप के लिए आप यहाँ क्लिक कर सकते हैंआप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।