ताज़ा खबर :
prev next

रिटायर्ड साइंटिस्ट के शव के साथ रह रहा था परिवार, 10 दिन बाद पड़ोसियों ने दी खबर

रिटायर्ड साइंटिस्ट के शव के साथ रह रहा था परिवार, 10 दिन बाद पड़ोसियों ने दी खबर

नई दिल्ली | दिल्ली के मशहूर पूसा इंस्टिट्यूट से रिटायर साइंटिस्ट यशवीर सूद के भाई-बहन उनके शव के साथ रह रहे थे। गुरूवार सुबह अत्यधिक बदबू आने पर पड़ोसियों ने पुलिस को बुलाया तो पता चला कि यशवीर की 8-10 दिन पहले मृत्यु हो चुकी थी। भाई-बहन ने इसके बारे में किसी को भी नहीं बताया।

पुलिस का कहना है कि यशवीर के भाई बहन की मानसिक हालात ठीक नहीं है और अभी तक उनके परिवार का अन्य कोई सदस्य सामने नहीं आया है। पोस्टमॉर्टम के लिए 72 घंटे तक इंतजार किया जाएगा। इसके बाद ही पोस्टमॉर्टम के बारे में कोई विचार किया जाएगा। यह मामला वेस्ट दिल्ली के इंद्रपुरी थाना इलाके का है।

बता दें की यशवीर सूद, इंस्टिट्यूट से 31 मार्च 2015 को रिटायर हो गए थे। इसके बाद भी तीनों भाई-बहन पूसा कैंपस में ई-54 में कुछ दिन रहे। बाद में उन्हें उस सरकारी क्वॉर्टर के पास ही डेसू की एक कॉलोनी में एक जर्जर से कमरे में शिफ्ट करा दिया गया था। एक ही कमरे में तीनों बहन-भाई रहते थे।

1-HG-Mobile-Application