ताज़ा खबर :
prev next

इंदिरापुरम प्रेसिडियम स्कूल में नहीं दिया बच्चों को प्रवेश, धरने पर बैठे अभिभावक

इंदिरापुरम प्रेसिडियम स्कूल में नहीं दिया बच्चों को प्रवेश, धरने पर बैठे अभिभावक

गाज़ियाबाद। इंदिरापुरम प्रेसिडियम स्कूल प्रबंधन ने मंगलवार को बच्चों को स्कूल में प्रवेश नहीं करने दिया। इसके चलते अभिभावक स्कूल गेट पर ही अनिश्चितकालीन धरने पर बैठ गए। वहीं दूसरी ओर बच्चों ने भी स्कूल के गेट पर ही बैग खोल लिया। स्कूल के सीईओ ने बताया कि स्कूल के बाहर धरना प्रदर्शन करने वाले अभिभावकों के खिलाफ स्कूल प्रबंधन ने पुलिस को पत्र लिखा है। साथ ही प्रदर्शन करने वाले अभिभावकों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की मांग की है।

स्कूल प्रबंधन का कहना है कि अभिभावक स्कूल के खिलाफ धरना प्रदर्शन करके माहौल खराब करने का प्रयास कर रहे हैं। वहीं अभिभावक संघ की प्रतीक्षा ने बताया कि स्कूल प्रबंधन ने जिन बच्चों की टीसी काटी है, उन्हें मंगलवार स्कूल में प्रवेश नहीं करने दिया गया। इसके विरोध में अभिभावक स्कूल के गेट पर अनिश्चितकालीन धरने पर बैठ गए। अभिभावकों ने बताया कि स्कूल प्रबंधन ने बढ़ी दर से ट्यूशन, वार्षिक और डेवलेपमेंट फीस जमा न करने पर 50 से अधिक बच्चों की टीसी काट दी है। यह राज्य सरकार की शिक्षा नीति और शिक्षा के अधिकार की अवमानना है।

राज्य सरकार की ओर से सभी स्कूलों को आदेश है कि जब तक स्कूल के फीस मामलों पर सरकार का कोई फैसला नहीं आता, तब तक कोई भी बढ़ी फीस नहीं ले सकता है। अभिभावकों ने बताया कि वे 2016-17 की दर से ट्यूशन फीस जमा करने को तैयार हैं, लेकिन स्कूल प्रबंधन वार्षिक शुल्क और ट्यूशन फीस जमा करने पर ही टीसी वापस लेने की बात कह रहा है। स्कूल प्रबंधन की ओर से सूचना दिए जाने पर पुलिस भी मौके पर तैनात रही।

अभिभावक सुबह सात बजे से दोपहर तीन बजे तक स्कूल के गेट पर ही डटे रहे।स्कूल प्रबंधन का पक्ष स्कूल प्रबंधन की ओर से स्कूल के सीईओ जेएस मथारू का कहना है कि टीसी काटे जाने के बाद 20 अभिभावक वार्षिक और रख रखाव शुल्क जमा कर चुके हैं। जिन्होंने फीस जमा कर दी हैए उनकी टीसी वापस ले ली गई है। फीस पर सरकार की कोई नई नियमावली जारी नहीं हुई है। अभिभावकों को वार्षिक और रखरखाव शुल्क जमा करना ही होगा।

हमारा गाज़ियाबाद के एंड्राइड ऐप के लिए आप यहाँ क्लिक कर सकते हैंआप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।