ताज़ा खबर :
prev next

तीन साल पहले बनाई गई बिल्डिंग में हो सकता है बड़ा हादसा

तीन साल पहले बनाई गई बिल्डिंग में हो सकता है बड़ा हादसा

गाज़ियाबाद। लोनी क्षेत्र के DLF अंकुर विहार के A6/3 बिल्डिंग के निवासी खतरे के साये में रह रहे हैं। DLF अंकुर विहार में रहने वाले विनोद कुमार ने अपने जीवन भर की जमा पूंजी लगाकर वर्ष 2014 में 3 बिल्डिंग का एक LIG फ्लैट बिल्डर प्रभु जी प्रसाद मैसर्स आदर्श इंफ्राटेक प्रा. लिमिटेड से खरीदा था। जिसे  इंडिया बुल्स हाऊसिंग फाइनेंस लिमिटेड ने बिल्डिंग की अपने स्तर पर जांच करके पास किया था। बिल्डिंग में रहने के दौरान कई बार उसकी मरम्मत भी करानी पड़ी।

लेकिन मरम्मत कराने के बावजूद भी बिल्डिंग के कई फ्लैट में दरारे आनी शुरू हो गईं जो दीवारो के आर-पार हो रही है। दीवारो से फैलते हुए यह दरारे बीम और छत को भी कमजोर कर रही हैं।  जिससे बिल्डिंग में रहने वाले लोगों को किसी भी दिन बड़े हादसों का शिकार होना पड़ सकता है। साथ ही ग्राउंड फ्लोर के दीवारों पर लगी हुई तमाम टाइल्स भी उखड़ रहे है। सभी समस्याओं को देखते हुए यहाँ के निवासीयों ने स्थानीय RWA के माध्यम से बिल्डर को सूचित किया लेकिन बिल्डर ने मुआयना करने से इनकार कर दिया। तब बिल्डिंग के निवासियों ने अपनी शिकायत लिखित में जिलाधिकारी, उपजिलाधिकारी, GDA और बिल्डर को भेजी। जिसके बाद GDA ने बिल्डर को बिल्डिंग का प्रमाणित नक्शा लेकर बुलाया व बिल्डिंग की मरम्मत का निर्देश दिया।

साथ ही नगर पालिका लोनी को भी बिल्डिंग की सुरक्षा जाँच हेतु निर्देशित किये। उपजिलाधिकारी को दी गई शिकायत के सम्बंध में रविवार को तहसील से पटवारी ने भी बिल्डिंग का मुआयना किया और घटिया भवन सामग्री के इस्तेमाल की बात मानी और जल्द ही रिपोर्ट उपजिलाधिकारी को देने की बात कही। वहीं बिल्डर ने बिल्डिंग की मरम्मत के लिए अपने कर्मचारी को सिर्फ पुट्टी के साथ बिल्डिंग में भेज दिया जिसका निवासियों ने घोर विरोध किया। लेकिन फिर भी बिल्डर बिल्डिंग का मुआयना करने नहीं आया।

इस सम्बंध में बिल्डिंग के निवासी वरिष्ठ अधिकारियों व GDA के भरोसे बैठे है ताकि वो बिल्डिंग का निरीक्षण करवा कर सुरक्षा हेतु बिल्डर पर उचित कदम उठाने के लिए दबाब बनाये। और साथ ही बिल्डर द्वारा बन रही अन्य बिल्डिंग की गुणवत्ता व प्रमाणिकता की जाँच करें ताकि यह समस्या भविष्य में किसी और के साथ न हो।

हमारा गाज़ियाबाद के एंड्राइड ऐप के लिए आप यहाँ क्लिक कर सकते हैंआप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।

By सत्याभा : Sunday 17 दिसंबर, 2017 02:13 AM