ताज़ा खबर :
prev next

कूड़े और गंदगी की समस्याओं से कब आज़ाद होगी शालीमार गार्डन की धरती

कूड़े और गंदगी की समस्याओं से कब आज़ाद होगी शालीमार गार्डन की धरती

गाज़ियाबाद। नगर निगम शहर में फैली अव्यवस्थाओं और समस्याओं के प्रति अपनी जिम्मेदारी नही समझ रहा है। आये दिन गली मोहल्ले से कूड़े-कचरे व सीवर लाइन जैसी तमाम समस्याएँ खबरों में आती रहती है लेकिन नगर निगम को अपनी ही धुन रहती है, उसे इन समस्याओं को हल करने की फुरसत नही है। लापरवाह नगर निगम की यही कहानी शालीमार गार्डन का एक इलाका बयाँ कर रहा है।

शालीमार गार्डन अख्शा मस्जिद वार्ड संख्या 9 में समस्याओं का अम्बार है। यहाँ की नालियाँ कूड़ों से पटी पड़ी हैं, मस्जिद के आसपास कूड़ों के ढेर लगे हैं और नगर निगम सोया हुआ है। जानकारी के मुताबिक पिछले 4 साल से इस इलाके की यही समस्या है। यह समस्या आज की नही है। इसकी शिकायत पूर्व नगर आयुक्त अब्दुल समद से स्थानीय लोगों ने की थी लेकिन अबतक कोई कार्यवाही नही हुई। इसके लिए मेयर अशु वर्मा को कई बार अवगत कराया जा चुका है लेकिन केवल आश्वासन देकर मामले को दर किनार कर दिया जाता है।

स्थानीय निवासी जय दीक्षित ने बताया कि नगर निगम द्वारा यहाँ 69 सफाई कर्मी की ड्यूटी लगाई गई है लेकिन खासकर इस इलाके में एक भी सफाई कर्मी नही आता। यहाँ के हालात इतने बदतर हो चुके हैं कि घरों के सामने की नालियाँ उफान पर आ चुकी हैं। पास में ही एक विवेकानंद एन्क्लेव इलाका है जहां महीनो से सीवर की समस्या बनी हुई है लेकिन उसको भी देखने नगर निगम के अधिकारी एक बार भी नही आये। जब भी कूड़े और नाली के ये समस्या ज्यादा हो जाती है तो स्थानीय लोग ही खुद बीड़ा उठा कर इलाके की पूरी सफाई कर देते हैं।

पार्षद सरदार सिंह भाटी का भी इस समस्या पर ढुल-मुल रवैया है। इलाके की समस्याओं से तंग आकर स्थानीय लोगों ने नगर आयुक्त चन्द्रप्रकाश सिंह से मिले हैं। नगर आयुक्त ने आश्वासन दिया है कि आगामी 1 सितम्बर से साफ़-सफाई काम शुरू करा दिया जाएगा।

हमारा गाज़ियाबाद के एंड्राइड ऐप के लिए आप यहाँ क्लिक कर सकते हैंआप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।