ताज़ा खबर :
prev next

डासना जेल में मना रक्षाबंधन, बहनों ने लिया भाइयों से अपराध छोड़ने का वादा

डासना जेल में मना रक्षाबंधन, बहनों ने लिया भाइयों से अपराध छोड़ने का वादा

गाज़ियाबाद | रक्षाबंधन के मौके पर डासना जेल में 5,000 से अधिक महिलाओं और बच्चों ने अपने भाइयों को राखी बांधी। सुबह से ही जेल के बाहर महिलाओं की लम्बी कतार लग गई थी। जेल में बंद अपने भाई को राखी बांधने के लिए सुल्तानपुर से आई दीप्ती ने बताया कि इस बार रक्षा बंधन के लिए बहुत कम समय का मुहूर्त है इसलिए उनकी कोशिश है कि वे जल्द से जल्द राखी बांध दें। उन्होंने कहा कि राखी के उपलक्ष में वे अपने भाई से अपराध की दुनिया छोड़कर ईमानदारी से काम करने का तोहफा मांगेगी।

त्योहार को देखते हुए जेल प्रशासन की तरफ से मुलाकातियों की सुविधा का ध्यान रखा गया। इस अवसर पर जेल के अन्दर और बाहर महिला कांस्टेबलों की विशेष टीम को तैनात किया गया। इसके अलावा मेडिकल टीम और जेल पहुंचे मुलाकातियों के लिए पानी की व्यवस्था की गई थी। जेल अधीक्षक दधिराम मौर्य ने बताया कि जेल में बंद महिलाओं को अपने भाइयों को राखी बांधने की व्यवस्था भी की गई थी। साथ ही उन्होंने सभी को रक्षाबंधन की शुभकामनाएं भी दीं।

(हमारा गाज़ियाबाद के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.) यदि आप व्हाट्स एप के माध्यम से गाज़ियाबाद की ख़बरें पाना चाहते हैं तो इस लिंक पर क्लिक कर आप हमारे ग्रुप्स से जुड़ सकते हैं. https://goo.gl/ho2rbI