ताज़ा खबर :
prev next

शाबाश इंडिया – तीन महीने में अकेले 60 फुट गहरा कुआँ खोद डाला इस लेडी भागीरथ ने

शाबाश इंडिया – तीन महीने में अकेले 60 फुट गहरा कुआँ खोद डाला इस लेडी भागीरथ ने

बेंगलुरु | साहसी और मेहनती व्यक्ति किसी के मोहताज़ नहीं होते, समाज की आलोचनाओं से दूर वे बस अपनी ही धुन में काम करते रहते हैं। कर्नाटक के सिरसी जिले में गणेश नगर गाँव की रहने वाली गौरी को अपने नारियल और सुपारी के पौधों के लिए पानी की जरूरत थी। लेकिन उसके पास कुआँ खोदने के लिए पैसे नहीं थे। पैसों की कमी के बावजूद गौरी ने हिम्मत नहीं हारी और अकेले ही एक 60 फुट गहरा कुआँ खोद डाला।

इस कुँए में अब लगभग 7 फुट पानी है जो गौरी की जरूरतों के लिए पर्याप्त है। कुआँ खोदने के लिए गौरी हर दिन 5 से 6 घंटे खुदाई करती थी और एक दिन में सिर्फ 4 फुट मिट्टी ही खोद पाती थी। पानी के स्रोत तक पहुँचने में गौरी को तीन महीने का समय लगा। इस दौरान वह अपने घर के रोजमर्रा के कामकाज और मजदूरी के साथ-साथ खेती आदि भी करती थी। गौरी के पड़ोसियों ने बताया कि उसने सिर्फ अंतिम 7 फीट की मिट्टी हटाने के लिए ही अपनी तीन सहेलियों की मदद ली।

एक बच्चे की मां गौरी यहां के गणेश नगर में मजदूरी का काम कर खर्च चलाती है। उसने अपने घर के पास में 150 सुपारी, 15 नारियल और कुछ केले के पेड़ भी उगाए हैं। गौरी की उस उपलब्धि के लिए उसके गाँव के लोग अब उसे लेडी भागीरथ के नाम से पुकारते हैं. गौरी की मेहनत, लगन और साहस को हमारा गाज़ियाबाद का सलाम। यदि आप भी ऐसे किसी व्यक्ति या संस्था को जानते हैं तो उसके बारे में हमें editor@hamaraghaziabad.com पर मेल कर अवश्य बताएं।


(हमारा गाज़ियाबाद के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

By हमारा गाज़ियाबाद ब्यूरो : Saturday 23 सितंबर, 2017 18:18 PM