ताज़ा खबर :
prev next

गोलगप्पे के पानी को तीखा बनाने के लिए मिलाता था फिनाइल, हुई 6 महीने की जेल

गोलगप्पे के पानी को तीखा बनाने के लिए मिलाता था फिनाइल, हुई 6 महीने की जेल

अहमदाबाद | गोलगप्पे के पानी को तीखा बनाने के लिए उसमें टॉयलेट क्लीनर मिलाने वाले अहमदाबाद के एक दुकानदार को 6 महीने की सजा सुनाई गई है। वैसे तो यह मामला 2009 का है, मगर लम्बी सुनवाई के बाद आज सजा सुनाई गई। अहमदाबाद के लाल दरवाजा इलाके में एक दुकानदार गोलगप्पे के साथ दिए जाने वाले पानी का जायका बढ़ाने के लिए उसमें टॉइलट क्लीनर मिलाता था।

अहमदाबाद नगर निगम को लाल दरवाजा इलाके के पानी पूरी वेंडर के बारे में शिकायत मिली थी कि वह पानी में कुछ गलत मिलाता है। इस बात की भी शिकायत की गई थी कि वह अपनी गाड़ी गटर के पास खड़ी करता है और बचा हुआ पानी पास की सड़क पर फेंक देता था जिससे सड़क भी ख़राब हो रही थी। इस शिकायत के बाद निगम ने सैंपल लिया और टेस्टिंग के लिए लैब भेजा।

लैब टेस्टिंग के बाद जो सामने आया, वह हैरान करने वाला था। गोलगप्पे के पानी में ऐसा ऐसिड मिला जो टॉइलट क्लीनर में इस्तेमाल किया जाता है। टेस्ट पॉजिटिव आने के बाद स्पेशल कोर्ट में पानी पूरी वेंडर चेतन नान्जी के खिलाफ मिलावट का केस दर्ज किया गया, वह दोषी पाया गया और उसे 6 महीने की जेल सुनाई गई।

ट्रायल के दौरान आरोपी चेतन ने कहा कि उसे दोषी करार देने के लिए कोर्ट के पास ज्यादा सबूत नहीं हैं और उसे छोड़ दिया जाना चाहिए, लेकिन वकील ने गवाहों और सबूतों के आधार पर दलील दी कि बहुत सारे लोग पानी पूरी खाना पसंद करते हैं और यह उनकी सेहत के साथ खिलवाड़ है। मिलावट वाला पानी लोगों की सेहत के लिए हानिकारक है। दोनों पक्षों की दलील सुनने के बाद कोर्ट ने दोषी वेंडर को 6 महीने जेल की सजा सुनाई।

(साभार – नभाटा)

By विशाल पंडित : Tuesday 26 सितंबर, 2017 05:32 AM Updated