ताज़ा खबर :
prev next

राहुल गांधी करते हैं कोकीन का नशा, होना चाहिए डोप टेस्ट – सुब्रमण्यम स्वामी

राहुल गांधी करते हैं कोकीन का नशा, होना चाहिए डोप टेस्ट – सुब्रमण्यम स्वामी

नई दिल्ली | पंजाब में मुख्यमंत्री कैप्टन इन दिनों राज्य में फैले नशे के कारोबार के खिलाफ बड़ी लड़ाई लड़ रहे हैं। हाल ही में उन्होंने घोसना की कि राज्य के हर सरकारी कर्मचारी का साल में एक बार डोप टेस्ट अवश्य कराया जाएगा। कैप्टन के इस फैसले की जहां चारों ओर तारीफ हो रही है, वहीं अब इस फैसले पर राजनीति और कटाक्ष भी शुरू हो गए हैं।

केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल ने कैप्टन सरकार के इस फैसले पर कटाक्ष किया है। उन्होंने कहा कि इस टेस्ट को जरूर कराना चाहिए लेकिन पहले उन नेताओं को अपना टेस्ट कराना चाहिए, जिन्होंने पंजाब के 70 फीसदी लोगों को नशेड़ी कहा था। उनका इशारा कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की ओर था।
कटाक्ष की इस कड़ी में बीजेपी के वरिष्ठ नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने एक कदम आगे बढ़ते हुए कहा कि पंजाब सरकार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का डोप टेस्ट कराना चाहिए, क्योंकि वे कोकीन का नशा करते हैं। उन्होंने कहा कि केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर ने 70 फीसदी पंजाबियों को नशेड़ी कहने वाले कांग्रेस नेताओं पर जो कटाक्ष किया है उनमें कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी शामिल हैं। स्वामी ने कहा कि राहुल गांधी के बयानों को देखकर साफ अंदाजा लगाया जा सकता है कि राहुल अपने होशोहवास में बयान नहीं देते हैं। उन्होंने कहा कि राहुल नशे के आदि हैं।

वहीं पंजाब आम आदमी पार्टी (आप) के विधायक अमन अरोड़ा ने गुरुवार को मोहाली के एक सरकारी अस्पताल में मादक पदार्थ सेवन का परीक्षण (डोप टेस्ट) कराया। अरोड़ा ने मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह को उदाहरण पेशकर इस तरह का टेस्ट खुद का, अपने कैबिनेट सदस्यों व सत्तारूढ़ कांग्रेस विधायकों का कराने की चुनौती दी। सुनाम के विधायक अरोड़ा ने कहा कि आम आदमी पार्टी पंजाब में मादक पदार्थों की समस्या पर रोक लगाने के लिए किसी भी प्रगतिशील कदम का समर्थन करेगी। लेकिन, यह बेहतर रहता है अगर मुख्यमंत्री ने खुद का, अपने मंत्रियों व कांग्रेस विधायकों का डोप टेस्ट शुरू किया होता। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार जब तक इन गतिविधियों में माफियाओं के साथ शामिल राजनेताओं व पुलिस अधिकारियों से निपटने की प्रतिबद्धता नहीं दिखाएगी, मादक पदार्थ की समस्या पर रोक नहीं लगेगी। आप विधायक की इस पहल का कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मनीष तिवारी ने स्वागत किया है।
आपको बता दें कि पंजाब में ड्रग्स के ओवरडोज के चलते पिछले एक महीने में कम से कम 30 लोगों की जान चली गई है। इस हालात से निपटने की रणनीति बनाने के लिए मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने सोमवार को कैबिनेट की मीटिंग बुलाई थी। कैबिनेट की बैठक के बाद से पंजाब सरकार लगातार कड़े फैसले ले रही है।

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad