ताज़ा खबर :
prev next

शाबाश इंडिया : इस बाप-बेटी ने रेलवे ट्रैक टूटे होने पर तौलिया दिखाकर रोकी ट्रेन, सैकड़ों यात्रियों की बचाई जान

शाबाश इंडिया : इस बाप-बेटी ने रेलवे ट्रैक टूटे होने पर तौलिया दिखाकर रोकी ट्रेन, सैकड़ों यात्रियों की बचाई जान

त्रिपुरा। अगरतला के दिहाड़ी मजदूर स्वप्न देब बर्मा ने अपने साहस से और चतुराई से ट्रेन में सवार सैकड़ों लोगों की जान बचाई। इस कार्य के लिए त्रिपुरा सरकार अब स्वप्न देब बर्मा और उनकी बेटी सोमती को सम्मानित करेगी। दरअसल, स्वपन देब बर्मा और उनकी बेटी सोमती ने 15 जून को रेलवे ट्रेक को टूटा हुआ जिसके बाद उन्होंने तौलिया दिखाकर ड्राइवर को ट्रेन रोकने का इशारा किया। ट्रेन के रुकने से एक बड़ा हादसा टल गया।

21 जून को त्रिपुरा सरकार में मंत्री सुदीप रॉय बर्मन ने स्वप्न देब बर्मा और उनकी बेटी सोमती को उनके किए गए इस साहस भरे काम के लिए सम्मानित किया। मंत्री ने कहा कि दोनों के साहसिक कार्य के विषय को सरकार के समक्ष उठाया जाएगा, जिससे कि इन्हें सम्मानित किया जा सके।

स्वप्न ने तौलिया दिखाकर ट्रेन को रोकने की कोशिश की, लेकिन इसके बावजूद ट्रेन नहीं रुकी। इसके बाद स्वप्न ट्रेक पर दौड़ने लगा और ट्रेन के लोको पायलट ने इमरजेंसी ब्रेक लगाकर ट्रेन रोक दी। जिसके बाद खुलासा हुआ कि ट्रैक टूटा हुआ था और इससे कई लोगों की जान जा सकती थी। वहां मौजूद सबी लोगों ने स्वप्न के इस काम की तारीफ की।

इस कार्य से प्रेरित होकर क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग ने भी स्वप्न को रियल हीरो बताते हुए एक ट्वीट में लिखा कि ऐसे रियल हीरोज को सरकार को सम्मानित करना चाहिए।

By सत्याभा : Wednesday 18 जुलाई, 2018 08:02 AM