ताज़ा खबर :
prev next

कोचिंग सेंटर पर लगेगा 18% जीएसटी, अभिभावकों पर बढ़ा बोझ

कोचिंग सेंटर पर लगेगा 18% जीएसटी, अभिभावकों पर बढ़ा बोझ

नई दिल्ली। विद्यार्थियों को विभिन्न प्रवेश परीक्षाओं के लिए तैयारी कराने के लिए ट्यूशन सेवा दे रहे कोचिंग सेटर्स पर 18% जीएसटी लगेगा। अथॉरिटी फॉर अडवांस रूलिंग (एएआर) ने यह व्यवस्था दी है। एएआर की महाराष्ट्र पीठ के सामने इस बारे में एक याचिका दायर कर स्पष्ट करने का आग्रह किया गया था कि क्या प्रवेश परीक्षाओं की तैयारी करवा रहे कोचिंग संस्थान भी गुड्स ऐंड सर्विसेज टैक्स (जीएसटी) के दायरे में आते हैं।

एएआर ने इस मामले में व्यवस्था देते हुए कहा है, ‘इस मामल में कोचिंग सेंटर द्वारा दी जा रही सेवा पर सीजीएसटी कानून के तहत 9% की दर से और एसजीएसटी कानून के तहत 9% की दर से टैक्स लगेगा।’

इस तरह से प्रवेश परीक्षाओं की तैयारी के लिए ट्यूशन या कोचिंग क्लास की सेवाओं पर कुल मिलाकर 18% जीएसटी लगेगा। यह मामला एक संस्थान ‘सिंपल शुक्ला ट्यूटोरियल्स’ से जुड़ा है जो ग्यारहवीं व बारहवीं कक्षा के विद्यार्थियों को ट्यूशन सेवा देता है और विद्यार्थियों को एमबीबीएस से जुड़ी प्रवेश परीक्षा की तैयारी में मदद करता है।

आवेदक ने तर्क दिया था कि कोचिंग संस्थान भी शिक्षण संस्थान हैं इसलिए उन्हें जीएसटी से छूट मिलती है। जीएसटी के तहत शिक्षण संस्थानों द्वारा अपने विद्यार्थियों, फैकल्टी व स्टाफ को दी जाने वाली सेवाओं को शुल्क से छूट दी गई है। हालांकि कानून में ऐसे शिक्षण संस्थानों के लिए तय परिभाषा है। पहले कोचिंग सेटर्स पर 15 फीसदी सर्विस टैक्स लगता था।

 

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad
Subscribe to our News Channel