ताज़ा खबर :
prev next

सीएम चंद्रबाबू नायडू गुंटरू की नौ वर्षीय रेप पीड़िता के बनेंगे अभिभावक, उठाएंगे पढ़ाई का खर्च

सीएम चंद्रबाबू नायडू गुंटरू की नौ वर्षीय रेप पीड़िता के बनेंगे अभिभावक, उठाएंगे पढ़ाई का खर्च

गुंटूर। आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू ने शनिवार को घोषणा की कि गुंटूर की नौ वर्षीय रेप पीड़िता के लिए वह एक अभिभावक का काम करेंगे और उसकी शिक्षा पर आने वाले सभी खर्च को अपने पास से देंगे। शनिवार को गुंटूर के अस्पताल में पीड़िता से मिलने के बाद नायडू ने कहा कि वह बच्ची को आगे बढ़ने में हर मदद करेंगे और निजी पैसे से उसे पढ़ने में मदद करेंगे।

इससे पहले राज्य सरकार की ओर से रेप पीड़िता बच्चे के परिवार को पांच लाख रुपये देने की घोषणा की गई थी। बता दें कि बुधवार रात को 55 वर्षीय अन्नम ने नौ साल की बच्ची को बिस्किट का लालच देकर अपने पास बुलाया और उसके साथ दुष्कर्म को अंजाम दिया। खून से लथपथ बच्ची ने अपने घरवालों को घटना की जानकारी दी। बच्ची से रेप की घटना से गुस्साए गांव वालों ने विरोध प्रदर्शन करते हुए हाइवे जाम कर दिया और आरोपी के घर तोड़-फोड़ की। फरार हुए अन्नम की तलाश काफी जोर-शोर से की जा रही थी। गुरुवार रात को पुलिस ने उसके मोबाइल को ट्रेस किया और एक कॉल रिकॉर्डिंग में सुना गया कि उसने अपने एक रिश्तेदार से यह अपराध करने का पश्चाताप व्यक्त किया।

शुक्रवार की सुबह पुलिस ने खोज जारी रखी। दोपहर लगभग 1:15 बजे अन्नम के शव को डैडा में एक पेड़ से लटकता हुआ पाया गया। अन्नम की मौत के बाद भी लोगों का गुस्सा जारी रहा और मांग की गई कि शव उन्हें दिया जाए, जिससे वे उसे सरेआम जला सकें। अन्नम के रिश्तेदारों ने उसका शव लेने से इनकार कर दिया था लेकिन अंत में उसके बेटे ने शव लिया और अंतिम संस्कार किया। पीड़िता को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

शुक्रवार को राज्य के गृह मंत्री एनसी राजप्पा एवं अन्य मंत्रियों ने गुंटूर में गवर्नमेंट जनरल हॉस्पिटल का दौरा किया, जहां बच्ची का उपचार चल रहा है। अस्पताल में उन्होंने लड़की के परिवार को राज्य सरकार की ओर से मुआवजे के तौर पर पांच लाख रुपये का चेक सौंपा। बाद में राजप्पा ने बताया कि ऐसे घृणित अपराधों को रोकने के लिए प्रभावी कदम उठाए जाएंगे। मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू ने घटना की निंदा की थी और पुलिस को आरोपी के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने का निर्देश दिया था।

 

आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।