ताज़ा खबर :
prev next

वाह रे स्वास्थ्य विभाग – नहीं पता शहर में कितनी हैं गर्भवती महिलाएं, कैसे होगा मातृ वंदन

वाह रे स्वास्थ्य विभाग – नहीं पता शहर में कितनी हैं गर्भवती महिलाएं, कैसे होगा मातृ वंदन

गाज़ियाबाद | गाज़ियाबाद जिले के स्वास्थ्य विभाग में तैनात अधिकारियों को यह नहीं पता है मातृ वंदन योजना के तहत वर्ष 2018 में कितने रजिस्ट्रेशन हुए हैं । सूत्रों की मानें तो केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गई इस योजना में 2017 में एक भी रजिस्ट्रेशन नहीं हुआ। इसके चलते गाजियाबाद 75वें स्थान पर रहा।
बता दें कि केंद्र सरकार शुरू की गई मातृ वंदन योजना के तहत हर गर्भवती महिला को निशुल्क इलाज उपलब्ध कराया जाता है। इसके साथ ही बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ योजना के तहत भी माताओं को सहायता राशि दी जाती है। इसमें शहरी क्षेत्र में महिलाओं को एक हजार रुपए और ग्रामीण क्षेत्र में 14 सौ रुपए दिए जाते हैं। इसमें महिला के गर्भवती होने से बच्चे के पूरे टीकाकरण तक की जिम्मेदारी स्वास्थ्य विभाग की है। इस दौरान तीन बार में लाभार्थी महिलाओं को 6 हजार रुपए की धनराशि भी दी जानी है।

यह योजना जनवरी 2017 से लागू की गई थी लेकिन दिसंबर 2017 तक भी जनपद का स्वास्थ्य विभाग ऐसी महिलाओं का रजिस्ट्रेशन तक नहीं कर सका। इसके कारण वर्ष 2017 में इस योजना को यहां शुरु ही नहीं किया जा सका। विभाग के पास वर्ष 2018 में इस योजना के तहत अभी तक हुए रजिस्ट्रेशन का विवरण भी नहीं है। बिना रजिस्ट्रेशन इस मद में स्वास्थ्य विभाग को सहायता राशि नहीं मिल सकती। इस संबंध में विभागीय अधिकारियों का कहना है कि पूरा डाटा पोर्टल पर अपलोड करना है। जिसके बाद इस योजना को औपचारिक तौर पर शुरु किया जाएगा।

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad
Subscribe to our News Channel