विविध

हैकर्स कर रहें है पैन कार्ड का दुरुपयोग, ऐसे घोटालों से कैसे रहें सुरक्षित

पिछले कुछ दिनों से ऑनलाइन पैन कार्ड घोटालों (PAN Card Scams) में उल्लेखनीय वृद्धि देखी गई है। हालांकि, ऐसे ज्यादातर मामलों में, स्कैमर्स किसी जानी-पहचानी शख्सियत को निशाना बनाते है लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि आप इस तरह के घोटालों के अगले शिकार नहीं हो सकते। अधिकांश पैन घोटालों में, स्कैमर्स कार्ड के मालिक की जानकारी के बिना लोन लेते पाए जाते है।

हाल ही में अभिनेता राजकुमार राव ने फिनटेक ऐप के माध्यम से Personal Loans प्राप्त करने के लिए अपने पैन कार्ड के दुरुपयोग की सूचना दी है। राव ने ट्वीट किया था कि उनका CIBIL score प्रभावित हुआ है क्योंकि किसी ऐसे व्यक्ति ने उनके पैन विवरण का उपयोग करके 2,500 रुपये का लोन लिया जिसे वह नहीं जानते। राव से पहले, सनी लियोन ने भी इसी तरह की पैन कार्ड धोखाधड़ी (PAN Card Scams ) की घटना की शिकायत की थी।

इसलिए, यदि आपके पास पैन कार्ड है, तो यह जल्दी से जांचना बेहतर है कि क्या आप भी इस तरह के घोटाले के अगले टार्गेटेड तो नहीं है। आज के इस में बताया गया है कि आप कैसे जांच सकते है कि लोन लेने के लिए आपके पैन कार्ड का दुरुपयोग ( PAN Card Misuse) तो नहीं हुआ है।

यह जानने के 3 तरीके कि क्या किसी ने आपके पैन कार्ड का गलत इस्तेमाल किया है…
सिबिल स्कोर चेक (CIBIL Score Check ) करें। यह विभिन्न प्लेटफार्मों जैसे – सिबिल, इक्विफैक्स, एक्सपेरियन, या सीआरआईएफ हाई मार्क ( CIBIL, Equifax, Experian, or CRIF High Mark ) के माध्यम से किया जा सकता है। CIBIL Score चेक करके आप यह जान पाएंगे कि आपके नाम पर कोई लोन स्वीकृत हुआ है या नहीं।

Paytm या Bank Bazaar जैसे फिनटेक प्लेटफॉर्म के माध्यम से यह पता लगाने का एक और तरीका है कि क्या आपके पैन कार्ड का कर्ज लेने के लिए दुरुपयोग किया गया है। ये प्लेटफॉर्म वित्तीय रिपोर्ट की जांच के लिए विकल्प प्रदान करते है और आप ऋण विवरण के साथ तुरंत अपना सिबिल स्कोर (CIBIL Score ) प्राप्त कर सकते है।

यह जानने का तीसरा तरीका है कि किसी ने आपके पैन कार्ड पर लोन लिया है या आपके PAN Card से Scams तो नहीं हुआ फॉर्म 26A की जांच कर सकते है। यह आयकर विभाग द्वारा जारी एक वार्षिक कर विवरण है जिसमें सभी कर भुगतान और पैन कार्ड के साथ किए गए वित्तीय लेनदेन के आयकर रिटर्न रिकॉर्ड शामिल है। फॉर्म उपयोगकर्ताओं को प्रारंभिक चरण में धोखाधड़ी गतिविधि की पहचान करने और शिकायत दर्ज करने का मौका देता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.